ब्रेक्जिट पर हार के बाद अब लंदन पीएम बोरिस जॉनसन को एक और झटका, वक्त से पहले नहीं होंगे आम चुनाव

  • हफ्तेभर में लंदन पीएम के लिए दूसरा झटका
  • ब्रेग्जिट की समय सीमा 31 अक्टूबर तक बढ़ाने का हो सकता ऐलान

लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। ब्रेक्जिट पर मिली करारी हार के बाद अब उनके एक और प्रस्ताव को झटका लगा है। जॉनसन ने बुधवार को मांग रखी थी कि देश में दोबारा आम चुनाव कराए जाएं। लेकिन ब्रिटिश संसद ने समय से पहले चुनाव की मांग को खारिज कर दिया।

लगाई जा रही थीं चुनाव की अटकलें

इससे पहले सांसदों ने बिना समझौते के ब्रेक्जिट के विधेयक को खारिज कर दिया था। विपक्षी सांसदों और टोरी दल के बागियों ने ब्रिटेन को बिना डील के यूरोपीय संघ से बाहर निकलने से रोकने का समर्थन दिया। इस बिल को 300 के मुकाबले 329 मतों से पास कर दिया गया। बोरिस इस असफलता के बाद से ही अटकलें लगाई जा रहीं थी कि ब्रिटेन में जल्द ही आम चुनाव आयोजित कराए जाएंगे।

करना पड़ सकता है यह ऐलान

यूरोपीय यूनियन से अलग न होने वाले बिल के पास होने के बाद अब बोरिस जॉनसन को ब्रेग्जिट की समय सीमा 31 अक्टूबर तक बढ़ाने का ऐलान करना पड़ सकता है। आपको बता दें कि इससे पहले जॉनसन 15 अक्टूबर तक आम चुनाव कराने की चेतावनी दे चुके हैं।

गौरतलब है कि बोरिस जॉनसन ने चुनाव प्रचार के दौरान वादा किया था कि अगर 31 अक्टूबर तक ब्रेक्जिट पर समझौता नहीं हो पाता है, तब भी ब्रिटेन यूरोपीय संघ से अलग हो जाएगा। दूसरी ओर इसके विरोधी चाहते हैं कि यह समयसीमा बढ़ायी जाए।

Show More
Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned