Cameroon के एक स्कूल पर अलगाववादियों का हमला, छह बच्चों की मौत, कई घायल

Highlights

  • कैमरून (Cameroon) में एंग्लोफोन समूहों 2016 से स्वतंत्रता की मांग कर रहा है।
  • अलगाववादियों के डर से इस क्षेत्र के स्कूल बीते चार साल से बंद पड़े थे।

योन्दा। कैमरून (Cameroon) के एक अशांत इलाके में एक निजी स्कूल पर कुछ बंदूकधारियों ने हमला कर दिया। इसमें कम से छह बच्चों की मौत हो गई और एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए । दक्षिण-पश्चिमी शहर कुम्बा में पुलिस अधिकारियों ने हमले के लिए एंग्लोफोन अलगाववादियों को इस हमले का दोषी ठहराया है। इसकी स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं की गई है। एक स्थानीय शिक्षा अधिकारी का कहना है कि पीड़ितों की उम्र 12 से 14 के बीच थी।

US ELECTION 2020: धरती से करीब 408 किलोमीटर की ऊंचाई पर किया मतदान, ISS से केट रूबिन्स ने किया ईमेल

कैमरून में एंग्लोफोन समूहों 2016 से स्वतंत्रता की मांग कर रहा है। इन अलगाववादियों के डर से इस क्षेत्र के स्कूल बीते चार साल से बंद पड़े थे। हाल ही इन्हें खोला गया था। यहां की सुरक्षा को बढ़ाया भी गया था। मगर इस सुरक्षा में सेंध लगाकर अलगाववादियों ने स्कूल पर हमला बोल दिया। एंग्लोफोन कार्यकर्ताओं के अनुसार देश का फ्रांसीसी भाषी बहुमत अंग्रेजी भाषी अल्पसंख्यकों को हाशिए पर डाल रहा है।

बंदूकधारियों ने मोटरसाइकिल पर पहुंचने के बाद शनिवार को दोपहर के आसपास मदर फ्रांसिस्को स्कूल पर धावा बोला । हमले से बचने की कोशिश में दूसरी मंजिल से छलांग लगाते समय कुछ बच्चे घायल हो गए। सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए वीडियो में बच्चों को ले जाते समय स्कूल से दौड़ते हुए वयस्कों को दिखाया गया है।

Taiwan को डराने में लगा चीन, दक्षिण चीन सागर में दागीं घातक मिसाइलें

शहर के उप-प्रधान अली अनाउगू ने मीडिया को बताया कि उन्हें क्लास में बच्चे मिले और उन्होंने उन पर गोलीबारी की। यह स्पष्ट नहीं था कि स्कूल को क्यों निशाना बनाया गया, लेकिन उप-प्रधान ने कहा कि इस हमले के पीछे अलगाववादी विद्रोहियों का हाथ था। हालांकि एक अलगाववादी नेता ने इस हत्या से साफ इनकार किया है। उसका कहना है कि हत्याओं पर "घृणा" व्यक्त करते हुए एक बयान जारी किया जाएगा।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned