भारत की तरह अमरीका भी Tik Tok पर लगा सकता है बैन, डोनाल्ड ट्रंप ने दिए संकेत

Highlights

  • अमरीकियों के डेटा को सुरक्षित रखने के लिए 25 सदस्यी कांग्रेस की टीम ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से गुहार लगाई है।
  • चीन को सबक सिखाने के लिए डोनाल्ड ट्रंप कई सारे विकल्पों पर विचार कर रहे हैं, टिकटॉक (Tik Tok) को लेकर मिल रहीं हैं कई शिकायतें।

वाशिंगटन। भारत की तर्ज पर अमरीका भी अब चीनी एप टिकटॉक (Tik Tok) पर बैन लगाने की तैयारी कर रहा है। चीन से कई मामलों पर खफा अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) अब पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की राह पकड़ रहे हैं। चीन (China) को सबक सिखाने के लिए ट्रंप कई सारे विकल्पों पर विचार कर रहे हैं। गौरतलब है कि कोरोना के प्रकोप के बाद से अमरीका ने चीन से सतर्कता बरतनी शुरू कर दी है।

Australia ने चीन की तीखी आलोचना की, कहा- LAC पर यथास्थिति बदलने के प्रयास का वह विरोध करेगा

अपने एक बयान में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- वे टिकटॉक पर नजर रख रहे हैं। जल्द वे भी टिकटॉक को बैन कर सकते हैं। वे इस मामले में कुछ और भी कर सकते हैं, उनके पास कई सारे विकल्प हैं लेकिन वे टिकटॉक से जुड़े कई विकल्प पर नजर बनाए हुए हैं।

गौरतलब है कि रिपब्लिकन कांग्रेस के सदस्य लगातार टिकटॉक पर सख्ती की मांग कर रहे हैं। अमरीका भी भारत द्वारा उठाए गए कदमों की तर्ज पर ही टिकटॉक ऐप को बैन करने की सोच रहा है। 25 सदस्यी अमरीकी कांग्रेस की टीम ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से गुहार लगाई है कि अमरीकियों के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए ठोस कदम उठाए जाएं। उनका कहना था कि टिकटॉक के डाटा से चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को गुप्त सूचानाएं मिल रही हैं।

चीन पर लगातार भारत कर रहा कार्रवाई

अब तक भारत ने चीन के 47 और ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले भी चीन के 59 ऐप पर बैन लगाया गया है। इनमें टिकटॉक भी शामिल है। बाद में बैन किए गए ऐप्स में अधिकतर क्लोनिंग वाले ऐप्स शामिल हैं। मतलब, पहले से बैन ऐप की तरह कई ऐप उतार दिए हैं। इन ऐप्स पर डेटा चोरी के आरोप लगते रहे हैं। गलवान घाटी में झड़प के बाद भारत ने इन ऐप्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की थी।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned