मसूद अजहर का बैन होना भारत की शानदार सफलता, अब यूरोपीय आयोग में प्रतिबंध लगाने की तैयारी

मसूद अजहर का बैन होना भारत की शानदार सफलता, अब यूरोपीय आयोग में प्रतिबंध लगाने की तैयारी

Siddharth Priyadarshi | Publish: May, 03 2019 05:30:08 PM (IST) | Updated: May, 04 2019 08:07:46 AM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

  • 1 मई को वैश्विक आतंकी घोषित हुआ था मसूद अजहर
  • अमरीका,ब्रिटेन और फ्रांस के संयुक्त प्रस्ताव पर सुरक्षा परिषद ने किया था ऐलान
  • मसूद अजहर को बचाने में सामने आया चीन-पाकिस्तान का गठजोड़

नई दिल्ली। मसूद अजहर ( Masood Azhar ) का ग्लोबल आतंकी घोषित होना भारत की एक शानदार सफलता है। भारत में फ्रांसीसी राजदूत अलेक्जेंडर जिग्लर ने इस बात के लिए भारत को बधाई देते हुए कहा है कि यह विश्व समुदाय और भारत के लिए एक बहुत अच्छी खबर है। उन्होंने कहा कि पहली बार दुनिया किसी मुद्दे पर आम सहमति पर पहुंची है। उन्होंने कहा कि मसूद अजहर के मामले पर पहली बार UNSC के सभी सदस्य सर्वसम्मति पर पहुंचे। अलेक्जेंडर जिग्लर ने इस बात की भी जानकारी दी कि जल्द ही मसूद अजहर को राष्ट्रीय स्तर पर सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

पूर्व पीएम नवाज शरीफ को SC से बड़ा झटका, जमानत अवधि बढ़ाने की मांग ख़ारिज

विश्व समुदाय और भारत के लिए एक बहुत अच्छी खबर

फ्रांस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा जैश-ए-मोहम्मद चीफ मसूद अजहर को बैन करने के फैसले का स्वागत किया है। आपको बता दें कि फ्रांस के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर इस बात का अजहर पर बैन करने के मेल का स्वागत किया था। आपको बता दें कि फ्रांस कई सालों से इस मामले पर भारत का साथ दे रहा है। फ्रांस ने पुलवामा हमले के बाद भारत के इस मिशन का समर्थन किया और कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहा। गौरतलब है कि फ्रांस ने 15 मार्च को मसूद पर बैन लगा दिया था। भारत में फ्रांस के राजदूत ने यह भी कहा कि मसूद को वैश्विक आतंकवादी के रूप में सूचीबद्ध करने के मामले का फ्रांस ने 2016 के बाद लगातार समर्थन किया।

यूएन बैन पर कितना गंभीर है पाकिस्तान, क्या हाफिज सईद की तरह जिंदगी गुजारेगा मसूद अजहर

यूरोपीय आयोग में लगेगा प्रतिबंध

भारत में फ्रांस के राजदूत ने मीडिया से बातचीत में इस बात का दावा किया कि जल्द ही अजहर यूरोपीय आयोग में भी बैन कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का यह फैसला हमारी कोशिशों के सफल होने का संकेत है। फ्रांस आतंकवाद के खिलाफ प्रभावी उपाय करने के लिए सभी स्तर पर तैयार है। यूरोपीय आयोग द्वारा बहुत जल्दी मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। इसके बाद यूरोप के किसी भी देश में उसके खिलाफ मुकदमा चलाया जा सकेगा।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned