किम की निगरानी में हुआ एक और 'नए हथियार' का परीक्षण, क्या फेल हुए ट्रंप के दावे?

  • उत्तर कोरिया ने किया 25 जुलाई के बाद पांचवां परीक्षण
  • दक्षिण कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ के हवाले से मिल रही है जानकारी

प्योंगयांग। उत्तर कोरिया ने एक बार फिर मिसाइल प्रक्षेपण किया। उत्तर कोरिया ने दावा किया कि देश के नेता किम जोंग-उन ने शनिवार को दो मिसाइलों के प्रक्षेपण में एक नए हथियार के परीक्षण की निगरानी की थी और परिणाम से वे बहुत संतुष्ट हुए थे।

उत्तर कोरिया का पांचवां परीक्षण

दक्षिण कोरिया ने अपने समाचार एजेंसी की रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी। रिपोर्ट में कहा गया कि उत्तर कोरिया ने शनिवार को दक्षिण हेमग्योंग प्रांत के पूर्वी तटीय शहर हेमहंग से पूर्वी सागर में कम दूरी की मिसाइलों के परीक्षण सुबह 5.32 बजे और 5.50 बजे किए गए। आपको बता दें कि शनिवार को हुआ परीक्षण 25 जुलाई से लेकर अब तक हुआ पांचवां परीक्षण है।

ट्रंप ने किया था पत्र मिलने का दावा

दक्षिण कोरिया के जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ (JCS) ने कहा कि दोनों मिसाइलें अधिकतम 48 किलोमीटर की ऊंचाई पर जाकर लगभग 400 किलोमीटर दूर तक गईं। इस दौरान इन मिसाइलों की अधिकतम गति 6.1 मैक रही। आपको बता दें कि यह परीक्षण अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस बयान के कुछ ही देर बाद हुआ, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें किम का बेहतरीन पत्र मिला है।

किम ने किया प्रक्षेपण केंद्र पर नए हथियार का मुआयना

प्योंगयांग मीडिया ने रविवार को अपनी रिपोर्ट में लिखा, 'नए हथियार तंत्र की रिपोर्ट मिलने के बाद किम ने तत्काल परीक्षण करने का निर्देश दिया और प्रक्षेपण केंद्र पर नए हथियार का मुआयना किया।' एजेंसी ने हथियार के बारे में और जानकारी नहीं दी और कहा कि इसे स्थानीय परिस्थितियों को देखते हुए विकसित किया गया है। इसकी विशेषताएं मौजूदा अन्य हथियार तंत्रों से अलग है। सियोल और वाशिंगटन के संयुक्त अभ्यास के खिलाफ उत्तर कोरिया लगातार परीक्षण कर भड़काऊ काम कर रहा है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

Show More
Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned