George floyd death: ब्रिटेन में पुलिस पर प्रदर्शनकारियों का हमला, 100 से ज्यादा गिरफ्तार

Highlights

  • नस्लावाद को लेकर यूरोपीय शहरों में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ हजारों लोग सड़कों पर उतर आए।
  • इस बीच गृह सचिव प्रीति पटेल (Priti Patel) ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान प्रदर्शन नहीं करने की लोगों से अपील भी की।

लंदन। अमरीका (America) में पुलिस हिरासत में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत के बाद शुरू हुए विरोध-प्रदर्शन की आग ब्रिटेन तक पहुंच चुकी है। लंदन में शनिवार को प्रदर्शन कर रहे सौ से ज्यादा लोगों को हिंसक व्यवहार, पुलिस पर हमला और हथियार रखने जैसे आरोपों के लिए गिरफ्तार कर लिया गया। यह जानकारी स्कॉटलैंड यार्ड पुलिस की ओर से दी गई है।

लंदन मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने ट्विटर के माध्यम से ये सूचना दी कि नौ बजे तक प्रदर्शन के दौरान 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन पर शांति भंग, हिंसक व्यवहार, अधिकारियों पर हमला, हथियार रखने, क्लास ए श्रेणी के मादक पदार्थ रखने और नशे में होने जैसे आरोप लगे हैं। नस्लावाद को लेकर यूरोपीय शहरों में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ शनिवार को हजारों लोग सड़कों पर उतर आए और उन्होंने रैली भी निकाली।

विरोध प्रदर्शन में कई बाहरी देशों के लोेग भी शामिल हुए। लंदन में एकत्र हुए लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान भीड़ ने हिंसात्मक रवैया भी पेश किया और पुलिस अधिकारियों पर लोगों ने हमला बोल दिया। इस बीच गृह सचिव प्रीति पटेल ने कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान प्रदर्शन नहीं करने की लोगों से अपील भी की है।

उन्होंने कहा कि देशवासियों को संयम से काम लेने की आवश्यकता है। देश में कोरोना वायरस का कहर अभी भी जारी है। प्रीति ने कहा कि ऐसा स्वास्थ्य आपातकाल में लोगों को बाहर निकलकर एकत्र नहीं होना चाहिए। पुलिस रोज यह बात कह रही है। यह रैली ब्रिटिश जनता और सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए संदेश की तरह है। गौरतलब है कि अमरीका में पुलिस हिरासत में अफ्रीकी अमरीकी व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद से अमरीका सहित कई यूरोपीय देशों में विरोध प्रदर्शन जारी हैं। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि कानून व्यवस्था में सुधार हो और पुलिस की कार्यशैली में बदलाव किया जाना चाहिए।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned