WHO प्रमुख ने पीएम मोदी के बयान को सराहा, कहा- संसाधनों के सहयोग से महामारी को हराना संभव

Highlights

  • भारत कोरोना से लड़ रहे देशों की सहायता करने के लिए टीका उत्पादन क्षमता का इस्तेमाल करेगा।
  • डब्ल्यूएचओ (WHO) प्रमुख गेब्रिएसस का कहना है कि कोरोना से जीतने के लिए हर देश को सख्त नियमों का पालन करना चाहिए।

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कोरोना वैक्सीन (Coronavaccine) को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी के आश्वासन की तारीफ की है। पीएम मोदी ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र को संबोधित कर कहा था कि भारत कोरोना से लड़ रहे देशों की सहायता करने के लिए टीका उत्पादन क्षमता का इस्तेमाल करेगा।

डब्ल्यूएचओ प्रमुख गेब्रिएसस ने ट्वीट कर कहा कि इस महामारी को सिर्फ संसाधनों के आदान प्रदान के उपायों से ही हराया जा सकता है। इसके लिए एकजुटता की प्रतिबद्धता की जरूरत हैै। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि मिलजुलकर अपनी ताकतों और संसाधनों के उपयोग करने पर कोरोना को हराया जा सकता है।

पीएम मोदी के अनुसार बीते नौ माह से पूरी दुनिया इस महामारी से जूझ रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन के उत्पादन के मामले में भारत बड़ा देश है। ऐसे में वे विश्व समुदाय को एक और आश्वासन देते हैं कि भारत की टीका उत्पादन और आपूर्ति की क्षमता का इस्तेमाल इस संकट से लड़ाई में पूरी मानवता की मदद के लिए किया जाएगा।

डब्ल्यूएचओ प्रमुख गेब्रिएसस का कहना है कि कोरोना से जीतने के लिए हर देश को सख्त नियमों का पालन करना चाहिए। अभी इस महामारी का खतरा टला नहीं है। ये महामारी दोबारा तबाही मचा सकती है। ऐसे में हमें सतर्कता बरते हुए नियमों का पालन करना चाहिए।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned