scriptWorld largest Iceberg A76 breaks off an Antarctica | अंटार्कटिका में टूटा दुनिया का सबसे बड़ा बर्फ का पहाड़, जानिए क्या है इसका आकार | Patrika News

अंटार्कटिका में टूटा दुनिया का सबसे बड़ा बर्फ का पहाड़, जानिए क्या है इसका आकार

Antarctica Iceberg अंटार्कटिका में टूटा दुनिया का सबसे बड़ा हिमखंड, आकार जानकर रह जाएंगे दंग

नई दिल्ली

Published: May 20, 2021 11:07:34 am

नई दिल्ली। बर्फ की खान कहे जाने वाले अंटार्कटिका ( Antarctica ) से बड़ी खबर सामने आई है। अंटार्कटिका की बर्फ की चादर तेजी से गर्म हो रही है। इसके चलते बर्फ के बड़े बड़े हिमखंड पिघल रहे हैं। अब अंटार्कटिका के तट से एक विशालकाय हिमखंड ( Iceberg ) टूट गया है। बताया जा रहा है कि दुनिया का सबसे बड़ा हिमखंड है।
उपग्रहों और विमानों से ली गईं तस्वीरों के मुताबिक यह दुनिया का सबसे बड़ा हिमखंड है। यह हिमखंड 170 किलोमीटर लंबा है और करीब 25 किलोमीटर चौड़ा है।
World Largest Iceberg break off an Antarctica
World Largest Iceberg break off an Antarctica
यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि आइसबर्ग ए-76 अंटार्कटिका में रोने आइस शेल्फ के पश्चिमी हिस्से से टूटा और अब वेडेल सागर पर तैर रहा है।

यह भी पढ़ेँः चीन के Tianwen-1 मिशन के Zhurong रोवर ने मंगल से भेजीं पहली तस्वीरें, देखिए वहां का नजारा
यूरोपीय स्‍पेस एजेंसी के सैटलाइट तस्‍वीरों से नजर आ रहा है कि अंटारकर्टिका के पश्चिमी हिस्‍से में स्थित रोन्‍ने आइस सेल्‍फ से महाकाय बर्फ का टुकड़ा टूटा है। इस हिमखंड के टूटने से दुनिया में दहशत का माहौल है। इसका आकार स्पेनिश द्वीप मालोर्का के जितना बताया जा रहा है।
ये है वजह
जलवायु परिवर्तन के चलते अंटार्कटिका की बर्फ की चादर भी गर्म हो रही है। यही वजह है कि ग्लेशियर पीछे हट रहे हैं, खासकर वेडेल सागर के आसपास।

जैसे ही ग्लेशियर पीछे हटते हैं, बर्फ के टुकड़े टूट जाते हैं और तब तक तैरते रहते हैं जब तक कि वे अलग नहीं हो जाते या जमीन से टकरा नहीं जाते।
Antarctica इतना है हिमखंड का आकार
इस हिमखंड या बर्फ के पहाड़ के आकार का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ये टूटा हुआ टुकड़ा 4320 किलोमीटर तक फैला हुआ है। यही वजह है कि इसे दुनिया का सबसे बड़ा हिमखंड कहा जा रहा है। बताया जा रहा है कि इसका आकार इतना बड़ा है कि इसमें चार न्यू यॉर्क शहर समा सकते हैं।
इस हिमखंड को दिया ये नाम
इस विशालकाय हिमखंड को ए-76 नाम दिया गया है। इस हिमखंड के टूटने की तस्‍वीर को यूरोपीय यूनियन के सैटलाइट कापरनिकस सेंटीनल ने खींचा है।

यह सैटलाइट धरती के ध्रुवीय इलाके पर नजर रखता है। ब्रिटेन के अंटार्कटिक सर्वे दल ने सबसे पहले इस हिमखंड के टूटने के बारे में बताया।
यह भी पढ़ेँः Super Cyclone yash का मंडराया खतरा, देश के इन इलाकों में 23 से 25 मई के बीच देगा दस्तक

इसलिए बढ़ सकती है मुश्किल
इस हिमखंड के टूटने के साथ ही दुनियाभर में चिंता भी बढ़ गई है। माना जा रहा है कि इससे मुश्किलें और बढ़ सकती है। दरअसल नैशनल स्‍नो एंड आइस डेटा सेंटर के मुताबिक इस हिमखंड के टूटने से सीधे समुद्र के जलस्‍तर में वृद्धि नहीं होगी लेकिन अप्रत्‍यक्ष रूप से जलस्‍तर बढ़ सकता है।
यही नहीं ग्‍लेशियर्स के बहाव और बर्फ की धाराओं की गति को धीमा कर सकता है। सेंटर ने चेतावनी दी कि अंटारर्कटिका धरती के अन्‍य हिस्‍सों की तुलना में ज्‍यादा तेजी से गरम हो रहा है।
अंटारकर्टिका में बर्फ के रूप में इतना पानी जमा है जिसके पिघलने पर दुनियाभर में समुद्र का जलस्‍तर 200 फुट तक बढ़ सकता है।

वैज्ञानिकों की मानें तो ए-76 के टूटने की वजह जलवायु परिवर्तन नहीं बल्कि प्राकृतिक कारण हैं। ब्रिटिश अंटार्कटिक सर्वे दल की वैज्ञानिक लौरा गेरिश ने ट्वीट करके कहा कि ए-76 और ए-74 दोनों अपनी अवधि पूरी हो जाने के बाद प्राकृतिक कारणों से अलग हुए हैं।
वहीं नेचर मैगजीन के मुताबिक वर्ष 1880 के बाद समुद्र के जलस्‍तर में औसतन 9 इंच की बढ़ोत्‍तरी हुई है। इनमें से एक तिहाई पानी ग्रीनलैंड और अंटार्कटिका की बर्फ पिघलने से आया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारीMaharashtra Political Crisis: सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMumbai News Live Updates: शिंदे के गढ़ ठाणे में निषेधाज्ञा लागू, 30 जून तक खुलेआम लाठी-डंडे, हथियार लेकर चलना व पोस्टर जलाना प्रतिबंधितNDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार पर रामगोपाल वर्मा ने किया विवादित ट्वीट, BJP ने दर्ज कराई शिकायतपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराअमरीकी सुप्रीम कोर्ट ने खत्म किया गर्भपात का अधिकार: बाइडेन बोले, ट्रंप द्वारा नियुक्त जज छीन रहे महिलाओं के फंडामेंटल राइटयूपी में नमाज के बाद उपद्रव मचाने वालों के घर पर चला बाबा का बुलडोजर, देखें वीडियोनॉर्वे की राजधानी ओस्लो में नाइट क्लब में अंधाधुंध फायरिंग, 2 की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.