चीन से संबंधित Youtube Channels के खिलाफ Google ने उठाया बड़ा कदम

रिपोर्ट के अनुसार गूगल ने करीब 3,000 से अधिक यूट्यूब चैनल हटाएं हैं, जो चीन से संबंधित एक बड़े स्पैम नेटवर्क का हिस्सा रहे थे।

By: Mahendra Yadav

Published: 18 Oct 2020, 10:02 PM IST

Google ने अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले बड़ा कदम उठाते हुए चीन से संबंधित फर्जी (Youtube Channel) यूट्यूब चैनल हटाए हैं। रिपोर्ट के अनुसार गूगल ने करीब 3,000 से अधिक यूट्यूब चैनल हटाएं हैं, जो चीन से संबंधित एक बड़े स्पैम नेटवर्क का हिस्सा रहे थे। बताया जा रहा है कि इन सभी फर्जी चैनलों को गूगल ने जुलाई से सितंबर तक की अवधि में हटाया है। इन चैनलों पर अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित किए जाने संबंधी अभियानों को संचालित किया जा रहा था।

यह भी पढ़ें—FaceBook और Instagram से क्यों हटाए गए 22 लाख से अधिक विज्ञापन, जानिए असली वज

गूगल ने जारी किया बयान
गूगल ने हाल ही अपने एक बयान में कहा कि जितने भी वीडियोज की पहचान की गई है, उनमें से ज्यादातर में लोगों के देखे जाने की संख्या दस से भी कम हैं और इस पर भी असली यूजर्स के मुकाबले इन्हें स्पैम अकांउट्स से ही देखे गए हैं, जो वर्तमान में सक्रिय नहीं है। गूगल थ्रेट एनालिसिस ग्रुप टीएजी से शेन हंटले ने कहा कि इन नेटवर्क्‍स के द्वारा पोस्ट नियमित तौर पर किया जाता रहा है, लेकिन इनमें स्पैम कंटेंट की अधिकता रही है। हमने यूट्यूब पर प्रभावी ढंग से दर्शकों तक इनकी पहुंच नहीं देखी है।

youtube2.png

प्ले स्टोर से हटाए 240 से ज्यादा एप्स
Google ने अपने Play Store से भी सैंकड़ों मैलिशस एप्स को हटाया है। हाल ही Google ने Play Store से 240 से ज्यादा मोबाइल एप्स को बैन कर दिया है। बैन किए सभी एप्स एंड्राइड एप हैं। साथ ही गूगल ने अपने यूजस को भी आगाह किया है कि अगर वे इन एप्स का इस्तेमाल कर रहे हैं तो तुरंत इन एप्स को अपने मोबाइल से हटा लें। गूगल का कहना है कि ये सभी एप्स यूजर्स की सिक्योरिटी के लिए खतरा हो सकते हैं

यह भी पढ़ें—Google ने रोका अब तक का सबसे बड़ा डीडॉस साइबर अटैक

ज्यादातर एप्स एक ही ग्रुप के
रिपोर्ट के अनुसार, बैन किए गए एप्स पर नियमों के उल्लंघन का आरोप है। बताया जा रहा है कि ये एप्स यूजर्स को तरह-तरह के गैरजरूरी विज्ञापन दिखाते थे। ऐसे फ्रॉड एप विज्ञापन इंडस्ट्री के लिए मुसीबत पैदा कर रहे थे। गूगल की सिक्योरिटी टीम White Ops ने इन एप्स को नियमों का उल्लंघन का दोषी करार दिया। बैन किए गए ज्यादातर एप्स RAINBOWMIX ग्रुप के हैं। रिपोर्ट के अनुसार ये एप हर दिन पोकर सॉफ्टवेयर की मदद से करीब 1.4 करोड़ लोगों तक पहुंचते थे और रोजाना करीब 1.5 करोड़ लोगों के पास अलग-अलग करीब 1.5 करोड़ विज्ञापन भेजते थे।

Show More
Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned