scriptIllegal sand transport-dump in front of forest minister Said to take | वन मंत्री के सामने अवैध रेत परिवहन-डंप रेत, बोले माफिया पर करेंगे कार्रवाई | Patrika News

वन मंत्री के सामने अवैध रेत परिवहन-डंप रेत, बोले माफिया पर करेंगे कार्रवाई

- चंबल सेंचुरी में रेत उत्खनन पर प्रतिबंध
- वन मंत्री के काफिले के साथ चलता रेत से भरा टै्रक्टर ट्रॉली
- देवरी घडिय़ाल केन्द्र में मौजूद मंत्री - अधिकारियों के सामने रेत परिवहन
- वन मंत्री को दिखा चंबल नदी पर भारी मात्रा में डंप किया गया रेत
- घड़ियाल संरक्षण को लेकर दुनिया में टॉप पर चंबल

मोरेना

Published: February 06, 2021 09:32:40 am

मुरैना. मप्र शासन के वन मंत्री विजय शाह ने शुक्रवार सुबह चंबल नदी पर सपत्नीक पहुंचे। उन्होंने कहा घडिय़ालों में मुनष्यों के प्रति आक्रोशित भाव नहीं हैं। इनके संरक्षण को लेकर हम दुनिया में टॉप पर हैं। अंडों को तीन साल तक सुरक्षित रखकर पालन करना फिर चंबल नदी में छोडऩा ये बड़ी बात है। यह सब हमारे अधिकारियों के कुशल प्रबंधन के चलते संभव हो रहा है। चूकि हमें ग्वालियर आना ही था हमारे अधिकारी अच्छा काम कर रहे हैं तो मैंने सोचा वहीं पहुंचकर पीठ थपथपाना चाहिए। इसलिए मुरैना आया हूं।
0.png
,,
1.png

वन मंत्री ने बातचीत के दौरान उन्होंने वनकर्मियों को बंदूक के लाइसेंस दिलाने की बात कही लेकिन चलाने की परमीशन पर बोले मैं बहस नहीं करना चाहता और उठकर चल दिए। इससे पूर्व मंत्री से पूछा कि आप चंबल नदी तक आए रास्ते में आपको अवैध रेत उत्खनन की समस्या दिखी क्या, उन्होंने कहा कि अभी फिलहाल हमें तो नहीं दिखा फिर भी मेरी जानकारी में हैं। हम उचित कार्रवाई करवाएंगे। जब उनसे पूछा कि आप चंबल नदी पर आ रहे थे तब रास्ते में रेत से भरी टै्रक्टर ट्रॉली लगी हुई थीं, तो उन्होंने कहा है हम दिखवाते हैं।

एसपी, कलेक्टर मिलकर करेंगे माफिया पर कार्रवाई
मंत्री से पूछा कि मुरैना में वन विभाग ने पिछले छह महीने में अवैध रेत उत्खनन की एक भी बड़ी कार्रवाई नहीं की है तो उन्होंने कहा कि अकेला वन विभाग ही नहीं, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक मिलकर माफिया के खिलाफ कैसे कार्रवाई हो, इस पर बात करेंगे। जब उनसे पूछा गया कि आप गया कि आप जलीय जीव घडिय़ाल को रिलीज करने आए हैं और यहां कुछ ही दूरी पर रेत के अवैध उत्खनन से इनके जीवन पर संकट मडऱा रहा है तो मंत्री जवाब न देते हुए बोले किसी को किसी कुछ और पूछना हैं यह कहकर उठकर चल गए।

2.png

इसलिए नष्ट नहीं कर सके डंप रेत
वन मंत्री चंबल नदी पर थे तब वन विभाग के अधिकारी आपस में चर्चा कर रहे थे कि मंत्रीजी का कार्यक्रम अचानक बन गया इसलिए डंप रेत को नष्ट नहीं कर सके। यहां बता दें कि वन मंत्री चंबल नदी के पुराने राजघाट पुल के पास गए, उससे पहले पुल के आसपास हजारों डंपर रेत वहां डंप हो रहा था। जिसके बड़ी मात्रा में ढेर लगे हुए थे। ये रेत यह स्पष्ट कर रहा था कि अवैध उत्खनन बड़े स्तर पर चल रहा है। यहां तक कुछ स्टाफ तो यह भी कह रहा था कि दस मिनट पहले ही यहां से टै्रक्टर ट्रॉली रेत भरकर निकले हैं।

photo_2021-02-05_19-37-19_1.jpg

 

बाहर से निकलते रहे ट्रैक्टर ट्रॉली
वन मंत्री देवरी घडिय़ाल केन्द्र के अंदर पूरे अमले के साथ मौजूद थे। रेत माफिया के हौंसले इतने बुलंद हैं कि वह रेत से भरे टै्रक्टर-ट्रॉली लेकर घडिय़ाल केन्द्र के आगे से निकलते रहे। यहां तक मंत्री का काफिला चंबल नदी से लौटकर आ रहा था तब रास्ते में भी रेत से भरे टै्रक्टर ट्रॉली मिले।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Kashmir On Alert: जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में लश्कर के 3 आतंकी ढेर, सभी सशस्त्र बलों की छुट्टियाँ रद्दभारतीयों से कभी नहीं मांगेंगे रहम की भीख, आजादी के लिए संघर्ष जारी रहेगा: यासीन मलिक की पत्नी के 'आतंकी' बोलयासीन मलिक ने किया आइडिया ऑफ इंडिया पर हमला, महात्मा गांधी से तुलना करने पर भड़के जजBy election in Five States: पांच राज्यों की तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान, इस दिन होगी वोटिंगबच्चों पर मंडराया क्रूप डिजीज का खतरा, कोरोना और मंकीपॉक्स के बाद इस बीमारी का बढ़ा डर, जानें लक्षणIPL 2022, LSG vs RCB Eliminator Match Result: पाटीदार के दम पर जीता RCB, नॉकआउट मुकाबले में LSG को 14 रनों से हरायाकश्मीर में आतंकी हमले में टीवी एक्ट्रेस की मौत, 10 साल के भतीजे पर भी हुई फायरिंगAir Force के 4 अधिकारियों की हत्या, पूर्व गृहमंत्री की बेटी का अपहरण सहित इन मामलों में था यासीन मलिक का हाथ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.