इस बैंक ने बदले क्रेडिट कार्ड के नियम, जान लें ये बात वरना आपको हो सकता है भारी नुकसान

  • एचडीएफसी बैंक ने देर की जाने वाली पेमेंट पर लगने वाले चार्ज को नए वित्तीय वर्ष से रिवाइज करने का फैसला किया है।
  • एचडीएफसी बैंक यह रीविजन आगामी 1 अप्रैल से करेगा।

By: Ashutosh Verma

Updated: 03 Mar 2019, 04:31 PM IST

नई दिल्ली। क्रेडिट कार्ड धारकों को एक बात हमेशा ध्यान में रखनी होती है कि वे सही समय पर बिल का भुगतान कर दें। ऐसा करने से प्रमुख तौर पर आपको दो तरह के फायदे होते हैं। पहला ये कि आपका पैसा बचता है और दूसरा ये कि इससे आपके क्रेडिट प्रोफाइल भी दुरूस्त रहता है। प्राइवेट सेक्टर के एक प्रमुख बैंक, एचडीएफसी बैंक ने देर की जाने वाली पेमेंट पर लगने वाले चार्ज को नए वित्तीय वर्ष से रिवाइज करने का फैसला किया है। ऐसे में एक एचडीएफसी क्रेडिट कार्ड धारक के तौर पर आपको इस बात का ध्यान रखना है कि तय अवधि के अंदर ही आप अपने क्रेडिट कार्ड का पेमेंट कर दें। एचडीएफसी बैंक यह रीविजन आगामी 1 अप्रैल से करेगा। आइए जानते हैं इसके बारे में कई अहम जानकारी।


एचडीएफसी बैंक ने यह लेट पेमेंट चार्ज को लेकर बदलाव इनफिनिया कार्ड्स के अतिरिक्त अन्य सभी कार्ड के लिए बदलाव किया है। यह चार्ज आपके बैलेंस स्टेटमेंट की कुल राशि के आधार पर तय होगी। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड पेमेंट के लिए स्टेटमेंट जेनरेट होने के 45-51 दिनों का समय होता है। आइए जानते हैं कि इस रीविजन के बाद अब लेट पेमेंट चार्ज के तौर पर कितनी रकम देनी होगी।

 

स्टेटमेंट बैलेंस: 100 रुपए से 500 रुपए तक
31 मार्च 2019 तक लेट पेमेंट चार्ज: 100 रुपए
1 अप्रैल के बाद लेट पेमेंट चार्ज:


स्टेटमेंट बैलेंस: 501 रुपए से 5000 रुपए तक
31 मार्च 2019 तक लेट पेमेंट चार्ज: 400 रुपए
1 अप्रैल के बाद लेट पेमेंट चार्ज: 500 रुपए

स्टेटमेंट बैलेंस: 5001 रुपए से 10,000 रुपए तक
31 मार्च 2019 तक लेट पेमेंट चार्ज: 500 रुपए
1 अप्रैल के बाद लेट पेमेंट चार्ज: 600 रुपए


स्टेटमेंट बैलेंस: 10,000 रुपए से 25,000 रुपए तक
31 मार्च 2019 तक लेट पेमेंट चार्ज: 750
1 अप्रैल के बाद लेट पेमेंट चार्ज: 800

स्टेटमेंट बैलेंस: 25,000 रुपए से अधिक
31 मार्च 2019 तक लेट पेमेंट चार्ज: 750 रुपए
1 अप्रैल के बाद लेट पेमेंट चार्ज: 950 रुपए


बता दें कि आपके क्रेडिट कार्ड पर लेट पेमेंट चार्ज तब लगता है जब स्टेटमेंट जनरेट होने के बाद न्यूनतम राशि भी नहीं जमा करते हैं। हर क्रेडिट कार्ड पर न्यूनतम राशि आपके पूरे बिल का 5 फीसदी होता है। लेट पेमेंट चार्ज से बचने के लिए आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप कम से कम न्यूनतम राशि तो जमा ही कर दें। इसके लिए आपके पास तीन तरह का विकल्प होता है। आप या तो न्यूनतम राशि जमा कर दें या फिर आप कुल स्टेटमेंट बिल का कुछ हिस्सा जमा करें। आपके पास तीसर विकल्प होता है कि आप एक ही बार में कुल राशि जमा कर दें।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

Show More
Ashutosh Verma Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned