VIDEO: यूपी के इस शहर में हत्यारोपियों ने हाथों में दफ्ती लेकर जनता से मांगी माफी जानें क्यों?

Rahul Chauhan

Publish: Feb, 15 2018 03:42:46 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 03:46:01 PM (IST)

Muzaffarnagar, Uttar Pradesh, India
VIDEO: यूपी के इस शहर में हत्यारोपियों ने हाथों में दफ्ती लेकर जनता से मांगी माफी जानें क्यों?

यूपी पुलिस द्वारा लगातार किए जा रहे बदमाशों के एनकाउंटर के बाद अब अपराधी भी घबराने लगे हैं।

शामली। जनपद के कैराना कोतवाली क्षेत्र में बदमाशों के हौसले पस्त होते नजर आ रहे हैं। जिले में खाकी का खौफ अपराधियों के सिर चढ़कर बोलने लगा है। अपराध से इलाके में अपना रौब गालिब करने वाले दादाओं के दिन अब लदते नजर आ रहे हैं। जेल से छूटकर आए गांव मोहम्मदपुर राई निवासी दो सगे भाइयों ने पुलिस अधीक्षक को शपथ पत्र देकर अपराध न करने की सौगंध खाई है। साथ ही सभ्य जीवन जीने का भी वादा किया है।

यह भी पढ़ें-मुख्‍यमंत्री योगी के निर्देशों के बावजूद हत्‍यारोपियों की घमकी से डरे गवाह घर में कैद, खाने के लाले पड़े

दरअसल मामला कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर राई का है। जहां पर अपराध की दुनिया में अपना रौब गालिब करने वाले दो सगे भाई कस्बे की गलियों में हाथों में तख्ती लेकर घूमते हुए आम लोगों से माफी मांगते नजर आ रहे हैं। अपराधियों का कहना है कि अब वो अपराध से तौबा करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें-डिप्टी सीएम प्रदेश की सड़कों पर किए अपने ही वादे से पलटे, यकीन नहीं आएगा

दोनों भाई पुलिस अधीक्षक डॉ अजयपाल शर्मा से भी मिले और शपथ पत्र देकर जीवन में कभी भी अपराध न करने का वादा किया। एसपी को दिए शपथ पत्र में सालिम उर्फ बाबा व इरशाद ने बताया कि उनके खिलाफ कैराना व अन्य थानों पर हत्या सहित कई मुकदमे दर्ज हैं। वह दोनों एक माह पूर्व ही जेल से छूटकर आए हैं।

यह भी पढ़ें-जब इस बड़े नेता के सामने लगने लगे हर-हर महादेव और अल्लाह़ु अकबर के नारे- देखें वीडियो

दोनों ही बदमाश शादीशुदा और बाल-बच्चे दार हैं और भविष्य में सभ्य नागरिक की भांति जीवन व्यतीत करना चाहते हैं। दोनों ने प्रार्थना पत्र में अपराध से तौबा करने व अपने बच्चों के बीच रहकर शारीरिक श्रम कर जीवन यापन करने की बात कही है। साथ ही अब तक किए गए असामाजिक कृत्यों के लिए क्षमा करने की गुहार भी लगाई है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned