गणतंत्र दिवस पर मंत्री कपिल देव अग्रवाल के कार्यक्रम में राष्ट्रीय ध्वज का अपमान

Highlights

- मुजफ्फरनगर पुलिस लाइन में 26 जनवरी के कार्यक्रम का मामला

- जूते पहनकर अशोक स्तंभ पर खड़ा हो गया पुलिसकर्मी

- मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने माना पुलिसकर्मी से हुई चूक

By: lokesh verma

Published: 27 Jan 2021, 10:24 AM IST

मुजफ्फरनगर. 72वें गणतंत्र दिवस के मौके पर हर साल की तरह इस बार भी पुलिस लाइन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें इस बार मुख्य अतिथि के रूप में उत्तर प्रदेश सरकार में व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल पहुंचे। लेकिन, इस दौरान पुलिस विभाग के कर्मचारियों से एक बड़ी चूक हुई, जिस वजह से राष्ट्रीय ध्वज का अपमान हुआ। उसके बाद भी राष्ट्रीय ध्वज को सही करने के लिए एक पुलिसकर्मी जूते पहने हुए ही राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तंभ पर खड़ा हो गया। इस पूरे घटनाक्रम को एसएसपी देखते रहे। हालांकि मंत्री कपिल देव अग्रवाल इसे पुलिसकर्मी की चूक माना है।

यह भी पढ़ें- शीतलहर के चलते यूपी में 5 डिग्री तक पहुंचा पारा, गलन भरी सर्दी ने जीना किया मुश्किल

दरअसल, मामला मुजफ्फरनगर पुलिस लाइन का है। जहां राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस पर पुलिसकर्मियों की लापरवाही से राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला सामने आया है। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल ने जैसे ही ध्वजारोहण के लिए रस्सी खींची तो राष्ट्रीय ध्वज नीचे बनाए गए अशोक स्तंभ के पास आ गिरा।

आनन-फानन में पुलिसकर्मियों ने राष्ट्रीय ध्वज को उठाकर फिर से लगाने का प्रयास किया तो इसी बीच एक पुलिसकर्मी जूते पहने ही अशोक स्तंभ पर चढ़ गया। उसे पुलिस अधिकारी टकटकी लगाए देखते रहे, मगर किसी ने कुछ नहीं कहा। घटना का पूरा नजारा मौके पर मौजूद मीडियाकर्मियों के कैमरे में कैद हो गया। घटना के बाद पुलिस अधिकारी मीडिया को मामले की जानकारी देने से बचते रहे। इस मामले में जब मंत्री कपिल देव अग्रवाल से बातचीत की तो उन्होंने केवल पुलिसकर्मी की चूक की वजह से मामला होने की बात कही।

यह भी पढ़ें- गणतंत्र दिवस पर IPS ऑफिसर ने की परेड की अगुवाई, फिर दी गई सांस्कृतिक प्रस्तुतियां, देखें वीडियो

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned