लक्ष्य की तुलना में 60 फीसदी ही मिली वैक्सीन, इसलिए 57 प्रतिशत का ही हो पाया टीकाकरण

वैक्सीन की डोज नहीं मिलने से जिले में शुरू नहीं हो पाया 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग का टीकाकरण
- उत्साहित युवा कर रहे हैं इंतजार, जिले को नहीं मिली डोज

By: shyam choudhary

Published: 05 May 2021, 12:57 PM IST

नागौर. सरकार ने एक मई से 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं का कोविड वैक्सीनेशन करने की घोषणा तो कर दी, लेकिन मई माह के चार दिन बीतने के बावजूद जिले को वैक्सीन की डोज नहीं मिली है, इसके चलते जिले में वैक्सीनेशन का काम ठप-सा हो गया है। हैल्थ वर्कर और फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन में प्रदेश में टॉप रहने वाले नागौर जिले में वैक्सीन की कमी के कारण अब तक लक्ष्य की तुलना में 57 फीसदी लोगों का ही टीकाकरण किया जा सका है।

चिकित्सा विभाग की रिपोर्ट के अनुसार जिले में हैल्थ वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर, 60 वर्ष से अधिक की उम्र वाले एवं 45 से 59 वर्ष आयु वर्ग वाले कुल 14 लाख 49 हजार 473 लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा गया, लेकिन जिले को एक मई तक 8 लाख 56 हजार 240 डोज वैक्सीन ही मिली, जिसके चलते जिले में लक्ष्य की तुलना में 8 लाख 29 हजार 729 जनों का ही टीकाकरण हो पाया।

दूसरी डोज आधों के भी नहीं लगी
हैल्थ वर्कर एवं फ्रंटलाइन वर्कर के वैक्सीनेशन में नागौर जिले की स्थिति बहुत अच्छी थी। जिले में पहली डोज जहां 95 प्रतिशत से अधिक ने लगवाई, वहीं 91.90 प्रतिशत ने दूसरी डोज भी लगवा ली। लेकिन 60 प्लस व 45-59 वर्ष आयु वर्ग में जिले की स्थिति बिगड़ गई। इन दोनों ग्रुप के 6 लाख 20 हजार 333 लोगों के पहली डोज लगाई गई, लेकिन दूसरी डोज मात्र एक लाख 38 हजार 310 लोगों को ही लगी, यानी 4 लाख 82 हजार 23 लोगों के पहली डोज तो लग गई, लेकिन दूसरी डोज लगना अभी शेष है।

वैक्सीन नहीं, इसलिए गाइडगाडल भी नहीं
जिले में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं का टीकाकरण करने को लेकर सरकार से अब तक कोई गाइडलाइन नहीं मिली है, इसकी प्रमुख वजह वैक्सीन नहीं होना है। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के अनुसार फिलहाल प्रदेश की 10 जिलों को वैक्सीन उपलब्ध करवाई जा रही है, जहां कोरोना का प्रकोप ज्यादा है। नागौर का नाम उन 10 जिलों में नहीं है।

कोरोना वैक्सीनेशन : जिले में एक मई तक की स्थिति
पहली डोज
केटेगरी - लक्ष्य - प्राप्ति - पेंडिंग - प्राप्ति प्रतिशत
एचसीडब्ल्यू - 20445 - 18874 - 1571 - 92.32
फ्रंटलाइन वर्कर - 18922 - 18649 - 273 - 98.56
कुल - 39369 - 37523 - 1844 - 95.32
दूसरी डोज
केटेगरी - लक्ष्य - प्राप्ति - पेंडिंग - प्राप्ति प्रतिशत
एचसीडब्ल्यू - 18774 - 17421 - 1353 - 92.79
फ्रंटलाइन वर्कर - 17749 - 16142 - 1607 - 90.95
कुल - 36523 - 33563 - 2960 - 91.90

पहली डोज
केटेगरी - लक्ष्य - प्राप्ति - पेंडिंग - प्राप्ति प्रतिशत
नागरिक (60+) - 389816 - 298839 - 90977 - 76.66
नागरिक (45-59) - 634890 - 321494 - 313396 - 50.64
कुल - 1024706 - 620333 - 404373 - 60.54

दूसरी डोज -
केटेगरी - लक्ष्य - प्राप्ति - पेंडिंग - प्राप्ति प्रतिशत
नागरिक (60+) - 258987 - 116322 - 142665 - 44.91
नागरिक (45-59) - 89890 - 21988 - 67902 - 24.46
कुल - 348877 - 138310 - 210567 39.64
महायोग - 1449473 - 829729 - 619744 - 57.24

नहीं मिली वैक्सीन
वैक्सीन के अभाव में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं का टीकाकरण करने का काम जिले में गति नहीं पकड़ पाया है। जैसे ही वैक्सीन मिलेगी, हम जिले में टीकाकरण सत्र आयोजित कर युवाओं को वैक्सीन लगाएंगे। फिलहाल जिले में कोविशिल्ड वैक्सीन खत्म है तथा कोवैक्सीन की कुछ डोज उपलब्ध है, जिसका तीन-चार सेंटर पर टीकाकरण हो रहा है।
- डॉ. मेहराम महिया, सीएमएचओ, नागौर

Show More
shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned