अंधे कत्ल का खुलासा : मृतक के खेत में ही काम करता था हत्यारा, सिर्फ इतनी सी बात पर कर दी मालिक की हत्या

घटना के एक माह बाद शनिवार को मुंगवानी पुलिस ने हत्या के आरोपी खेत में काम करने वाले नोकर को गिरफ्तार करते हुए अंधे कत्ल का खुलास किया है।

By: Faiz

Published: 28 Nov 2020, 08:00 PM IST

नरसिंहपुर/ मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में मुंगवानी क्षेत्र में अक्टूबर माह की 26 तारीख को राकेश राजौरिया पिता उमेश दत्त राजौरिया ने थाने आकर रिर्पोट दर्ज कराई थी कि, उसके भाई अभिषक उर्फ अब्बू राजौरिया का शव उसके खेत में पड़ा है। मामले की तफ्तीश शुरु करते हुए पुलिस ने मृतक की हत्या का मामला दर्ज करते हुए आज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध क्रमांक 289/2020 धारा 302 के तहत केस दर्ज कर लिया था। घटना के एक माह बाद शनिवार को पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार करते हुए अंधे कत्ल का खुलास कर दिया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- हनुवंतिया टापू पर नर्मदा की 1.5 मीटर ऊंची लहरों में डूब गई आधी हाउस बोट, बड़ा हादसा टला


मामले की जांच के लिए गठित की गई थी विशेष टीम

प्रकरण में किसी अज्ञात आरोपी द्वारा मृतक अभिषक उर्फ अब्बू राजौरिया के ही खेत में हत्या कर फरार हो जाने और प्रथम दृष्टया हत्या के आरोपियों के संबंध में कोई सुराग न होने से आरोपी की पतासाजी और गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक सुनील शिवहरे, एसडीओपी गोटेगांप परषोत्तम मरावी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी रोहित पटैल, प्रधान आरक्षक दिनेश घोषी, आरक्षक गौतम, आरक्षक देवदत्त एवं आरक्षक उत्तम की विशेष टीम गठित कर आरोपी की पतासाजी और गिरफ्तारी के निर्देश दिये थे।

 

पढ़ें ये खास खबर- 1 दिसंबर से बदल जाएगा राजधानी से गुजरने वाली इन 8 स्पेशल ट्रेनों का समय, देखें लिस्ट


मृतक के खेत में ही काम करता था हत्यारा

गठित टीम द्वारा आरोपी की पतासाजी और क्षेत्रीय मुखबिरों को सक्रीय करने के साथ साथ अन्य माध्यमों से पता लगाया गया, जिसमें सामने आया कि, मृतक के खेत में काम करने वाला नौकर रम्मू गौड घटना के बाद से ही गायब है। घटना के बाद से ही काम पर न लौटने वाले उक्त नौकर पर पुलिस को शक हुआ कि, संभवतः रम्मू गौड ने ही घटना को अजाम दिया है। इलाके में भी किसी को रम्मू गौड के बारे में जानकारी न होने पर पुलिस ने उसके संबंध में बारीकी से तस्दीक की, जिसपर पुलिस को पता लगा कि, रम्मू गौड इन दिनों केरपानी और समनापुर में काम कर रहा है। जानकारी मिलते ही मुगवानी पुलिस और कोतवाली थाना पुलिस की संयुक्त टीम संदेही को गिरफ्तार कर लिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- दिल्ली और हजरत निजामुद्दीन जाने वाली शताब्दी और भोपाल एक्सप्रेस निर्धारित समय से लेट पहुंचेगी, जानिए समय


पैसों के लेनदेन को लेकर की हत्या

रम्मू गौड को पुलिस गिरफ्त में लेने के बाद पूछताछ में आरोपी ने कबूल किया कि, मृतक अभिषक उर्फ अब्बू राजौरिया से मजदूरी के पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था, जिसके बाद दोनों में झगडा हो गया था। झगड़े के दौरान रम्मू ठाकुर ने मृतक के सिर पर पत्थर से वार कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी का कहना है कि, वो अभिषक राजौरिया की हत्या नहीं करना चाहता था, लेकिन गुस्से में ऐसा हो गया, जिसके चलते वो घबरा गया था और जान बचाने के लिए वहां से भाग निकला था।

 

पढ़ें ये खास खबर- अतिक्रमणकारी की पैरवी करना विधायक के बेटे को पड़ेगा भारी, कलेक्टर दर्ज कराएंगे केस


आरोपी पर था 10 हजार का इनाम

घटना में मृतक अभिषक उर्फ अब्बू राजौरिया की किसी अज्ञात आरोपी द्वारा हत्या कर फरार होने के संदेह होने पर आरोपी की सूचना देने वाले, पतासाजी करने वाले और आरोपी की गिरफ्तारी करने पर पुलिस अधीक्षक अजय सिंह द्वारा 10 हजार रूपये के नगद इनाम की घोषणा भी की गई थी।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned