script12 people lost their eyesight after operation in jharkhand | झारखंड: निजी अस्पताल में ऑपरेशन के बाद गई 12 लोगों की आंख की रोशनी | Patrika News

झारखंड: निजी अस्पताल में ऑपरेशन के बाद गई 12 लोगों की आंख की रोशनी

झारखंड के एक निजी अस्पताल से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां ऑपरेशन के बाद 12 मरीजों की आंखों की रोशनी चली गई। इस पूरे मामले में स्वास्थ्य मंत्री ने जांच के आदेश दिए हैं।

नई दिल्ली

Published: October 22, 2021 11:44:45 pm

नई दिल्ली। झारखंड के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन के बाद 12 लोगों की आंख की रोशनी चली गई। इस घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। इसके बाद से परिजन अस्पताल में हंगामा कर रहे हैं। वहीं घटना के बाद से ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर मौके से फरार हैं। इस पूरे मामले में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने जांच के आदेश दिए हैं।
12 people lost their eyesight after operation in jharkhand
12 people lost their eyesight after operation in jharkhand
निजी अस्पताल का है मामला
जानकारी के मुताहिक मामला राज्य के साहिबगंज के बरहरवा स्थित एक निजी अस्पताल झारखंड सेवा सदन नर्सिंग होम का है। यहां 5 और 7 अक्टूबर को करीब 12 लोगों की आंखों का ऑपरेशन किया था। जानकारी के मुताबिक इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने विशेष रूप से बाहर से डॉक्टरों को बुलाया था। मरीजों की आंखों का ऑपरेशन होने के बाद जब एक निश्चित समय बाद मरीजों की आंख से पट्टी खोली गई तो उन्होंने बिल्कुल भी न दिखाई देने की शिकायत की।
आयुष्मान भारत योजना के तहत किया गया था इलाज
इसके बाद से परिजनों ने अस्पताल में हंगामा शुरू कर दिया। इस हंगामें के बाद ऑपरेशन करने वाले चिकित्सक मौके से फरार हो गए। बताया जा रहा है कि आयुष्मान भारत योजना के तहत पीड़ितों का इलाज किया जा रहा था। मरीजों के डिस्चार्ज स्लिप पर बंगाल के कंसल्टेंट आई सर्जन डॉ. एचके विश्वास के नाम का मुहर लगा है। इस पूरे मामले में उक्त चिकित्सक भी नर्सिंग होम से फरार हैं।
यह भी पढ़ें

नहीं मिला कोई नया स्ट्रेन तो कोरोना की तीसरी लहर से बच जाएगा भारत

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने जिले के डीसी और सिविल सर्जन को मामले की जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है। उनका कहना है कि मामले में जो भी दोषी है उसे बक्शा नहीं जाएगा। इस घटना के बाद से इलाके में सनसनी फैली हुई है। वहीं मरीज और उनके परिजन सरकार से न्याय की मांग कर रहे हैं। कुछ लोग इस मामले में आयुष्मान भारत योजना पर भी सवाल उठा रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

वैक्सीनेशन को लेकर बड़ा ऐलान, 12 से 14 साल तक के बच्चों को मार्च से लगेंगे टीकेPunjab Election 2022: पंजाब में चुनाव की तारीख टली, अब 20 फरवरी को होगी वोटिंगUAE के अबूधाबी एयरपोर्ट पर तेल टैंकरों में विस्फोट, ड्रोन अटैक की आशंका'किसी को जबरदस्ती नहीं लगाई कोरोना वैक्सीन ', केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बतायाचुनाव आयोग का बड़ा फैसला, पत्रकारों सहित इन लोगों को मिलेगी पाँच राज्यों के चुनावों में पोस्टल बैलेट की सुविधाUP Election 2022: मुठ्ठी में अनाज भर अखिलेश यादव ने लिया अन्न संकल्प, जानिए किस बात की ली शपथशिवसेना ने 'सामना' के जरिए BJP पर साधा निशाना, कहा- दलित के घर भोजन करना महज दिखावाUttar Pradesh Assembly Election 2022 : तो क्या बेटी की लव मैरिज की वजह से कट गया विधायक का टिकट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.