scriptBombay High Court asks ncp leader Nawab Malik to File His Reply In Defamation Case by November 9 | मानहानि मामलाः वानखेड़े पर निजी हमले को लेकर बढ़ सकती है नवाब मलिक की मुश्किल, हाईकोर्ट ने कल तक मांगा जवाब | Patrika News

मानहानि मामलाः वानखेड़े पर निजी हमले को लेकर बढ़ सकती है नवाब मलिक की मुश्किल, हाईकोर्ट ने कल तक मांगा जवाब

नवाब मलिक बीते एक महीने से समीर वानखेड़े पर लगातार सीधा हमला बोल रहे हैं। इस मामले में हाल ही में समीर के पिता ध्यानदेव वानखेड़े ने मलिक पर मानहानि का मुकदमा दायर कराया, इसी को लेकर हाईकोर्ट ने मलिक को जवाब देने के लिए 8 नवंबर तक का वक्त दिया है

नई दिल्ली

Published: November 08, 2021 03:52:54 pm

नई दिल्ली। एनसीबी ( NCB ) ऑफिसर समीर वानखेड़े ( Sameer Wankhede ) पर निजी हमले करने के मामले में अब महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेसी नेता नवाब मलिक की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल समीर वानखेड़े के पिता ध्यानदेव की ओर से नवाब मलिक ( Nawab Malik ) पर लगाए गए मानहानि मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ( Bombay High Court ) ने एनसीपी नेता से 9 नवंबर तक जवाब मांगा है।
Nawab Malik
नवाब मलिक बीते एक महीने से समीर वानखेड़े पर लगातार सीधा हमला बोल रहे हैं। इस मामले में हाल ही में समीर के पिता ध्यानदेव वानखेड़े ने मलिक पर मानहानि का मुकदमा दायर कराया।
यह भी पढ़ेँः Cruise Drug Case: नवाब मलिक का समीर वानखेड़े से सवाल, क्या ड्रग रैकेट से जुड़ी है आपकी 'साली'?

सोमवार को इस मामले पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने नवाब मलिक से जवाब मांग लिया है। कोर्ट ने जवाब दायर करने के लिए मंगलवार तक का वक्त दिया है। इसके बाद 10 नवंबर को फिर केस की सुनवाई की जाएगी।
कोर्ट ने दिया ये तर्क
मामले की सुनवाई जस्टिस जामदार की वैकेशन बेंच ने की। कोर्ट ने मलिक के सामने ये तर्क दिया 'अगर आप ट्विटर पर रिप्लाई कर सकते हैं, तो यहां भी जवाब दें।' हालांकि, कोर्ट ने मलिक के आगे किसी बयान पर रोक लगाने का आदेश जारी नहीं किया।
याचिका में मलिक पर लगे ये आरोप
मानहानि केस में नवाब मलिक पर पूर्वाग्रह से प्रेरित होकर समीर वानखेड़े के परिवार के सदस्यों के नाम, चरित्र, प्रतिष्ठा और सामाजिक छवि को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगा है। वानखेड़े के वकील के मुताबिक समीर के पिता ध्यानदेव की मांग है कि मलिक, उनकी पार्टी के नेताओं और अन्य सभी को उनके और उनके परिवार के खिलाफ मीडिया में कुछ भी आपत्तिजनक, मानहानिकारक सामग्री लिखने, बोलने या प्रकाशित करने पर रोक लगाई जाए।
यह भी पढ़ेँः Cruise Drug Case: मोहित कंबोज के जरिए समीर वानखेड़े ने आर्यन को ट्रैप कर किडनैप किया, उगाही में दोनों पार्टनर - नवाब मलिक

यही नहीं समीर के पिता ने उच्च न्यायालय से अपील करते हुए कहा है कि मलिक के बयान और आरोप चाहे लिखित हो या मौखिक दोनों ने उनकी और उनके परिवार की छवि को नुकसान पहुंचाया है।
ऐसे में लगाए आरोप प्रकृति में अत्याचारी और मानहानिकारक हैं। इसके साथ ही ध्यानदेव ने हाईकोर्ट से अपील करते हुए कहा कि मलिक के इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया में दिए गए सभी बयान जल्द से जल्द हटाए जाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.