Char Dham Yatra 2021: केदारनाथ दर्शन के लिए 12 दिन की वेटिंग, एडवांस बुकिंग भी फुल

Char Dham Yatra 2021 चार धाम यात्रा शुरू होने के पहले ही दिन श्रद्धालुओं में दिखा जबरदस्त उत्साह, सबसे ज्यादा केदारनाथ धाम के लिए भक्तों ने करवाई एडवांस बुकिंग

By: धीरज शर्मा

Published: 19 Sep 2021, 12:47 PM IST

नई दिल्ली। उत्तराखंड में चार धाम यात्रा ( Char Dham Yatra 2021 ) शुरू होने के एक दिन बाद ही केदारनाथ धाम ( Kedarnath Dham ) के दर्शन के लिए एडवांस बुकिंग ( Advance Booking ) फुल हो गई है। यही नहीं अगले 12 दिन तक केदारनाथ दर्शन के लिए वेटिंग चल रही है।

बाबा केदार के दर्शन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने वाले श्रद्धालुओं के लिए शनिवार को 10 हजार ई पास जारी किए गए हैं। बता दें कि कोरोना गाइडलाइन के तहत केदारधाम में प्रतिदिन केवल 800 लोगों को ही जाने की अनुमति है। इस हिसाब से अब रजिस्ट्रेशन कराने वाले श्रद्धालुओं को आने वाले 12 दिन तक इंतजार करना होगा।

यह भी पढ़ेंः Char Dham Yatra 2021: पहले दिन बद्रीनाथ धाम पहुंचे श्रद्धालु, एंट्री के लिए ऐसे अप्लाई करें ग्रीन कार्ड

उत्तराखंड हाईकोर्ट की मंजूरी के बाद 18 सितंबर चार धाम यात्रा शुरू कर दी गई। चार महीने के इंतजार के बाद शुरू हुई यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला।

पहले दिन बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में 700 से ज्यादा श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। लेकिन चारों धामों में सबसे ज्यादा आकर्षण भगवान शिव के धाम केदारनाथ को लेकर ही दिखाई दिया है।

देवस्थानम बोर्ड ने शनिवार शाम तक दिए गए ई-पास की संख्या जारी की। चारों धाम के लिए पहले दिन 19 हजार 491 ई पास जारी किए गए हैं।

बद्रीनाथ में भी 5 दिन वेटिंग
केदारनाथ धाम के बाद बद्रीनाथ धाम के लिए श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। यहां भी भक्तों को एडवांस बुकिंग के लिए करीब पांच दिन का इंतजार करना होगा।

केदारनाथ-बदरीनाथ सहित चारधाम यात्रा के लिए भले ही रोजाना पहुंचने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या तय कर दी गई हो, पर यदि कोई यात्री रात को धामों में रुकना चाहे तो रुक सकता है।

यह भी पढ़ेंः Char Dham Yatra 2021: सीएम पुष्कर सिंह धामी का ऐलान, कल से इन नियमों के साथ शुरू होगी चार धाम यात्रा

धामों के लिए जारी ई पास
पहले दिन केदारनाथ धाम के लिए 10,010 ई पास जारी किए गए। यहां पर रोजाना 800 श्रद्धालुओं को दर्शन करने की मंजूरी दी गई है। इसी तरह बद्रीनाथ धाम में 4830 ई पास जारी किए गए, यहां 1000 यात्रियों को रोजाना दर्शन की अनुमति है। गंगोत्री में 2375 ई पास जारी हुए, यहां पर रोज 600 श्रद्धालु दर्शन कर सकते हैं। जबकि यमुनोत्री में 2276 ई पास जारी हुए, यहां पर 400 भक्त रोजाना दर्शन कर सकते हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned