scriptDelhi New LG Vinai Kumar Saxena Will Face Many Challanges After Take Charges | दिल्ली के नए उपराज्यपाल बने विनय सक्सेना, सामने हैं बड़ी चुनौतियां | Patrika News

दिल्ली के नए उपराज्यपाल बने विनय सक्सेना, सामने हैं बड़ी चुनौतियां

दिल्ली के उपराज्यपाल के तौर पर विनय कुमार सक्सेना आज शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह राजनिवास में आयोजित किया गया। इसमें केंद्रीय मंत्रियों समेत सैकड़ों अतिथि शामिल हुए। शपथ लेने के बाद बतौर एलजी विनय कुमार सक्सेना के सामने बड़ी चुनौतियां होंगी।

नई दिल्ली

Updated: May 26, 2022 12:35:42 pm

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को आज नया उपराज्यपाल मिल गया। अनिल बैजल के इस्तीफे देने के बाद विनय कुमार सक्सेना को दिल्ली के उपराज्यपाल की कुर्सी सौंपी गई है। शपथ ग्रहण समारोह राजनिवास में आयोजित किया गया। इसमें केंद्रीय मंत्रियों समेत सैकड़ों अतिथि शामिल हुए। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों, उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों, केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों और विधायकों समेत गणमान्य व्यक्तियों को शपथ ग्रहण समारोह का निमंत्रण भेजा गया था। हालांकि शपथ लेने के बाद विनय कुमार सक्सेना की राह इतनी आसान नहीं होगी। उनके सामने बड़ी चुनौतियां भी होंगी। विनय सक्सेना के सामने केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच तालमेल तो बैठाना ही होगा साथ ही केंद्र की ओर से जताए गए भरोसे पर भी खरा उतरना होगा।
Delhi New LG Vinai Kumar Saxena Will Face Many Challanges After Take Charges
Delhi New LG Vinai Kumar Saxena Will Face Many Challanges After Take Charges
66 वर्षीय विनय कुमार सक्सेना दिल्ली के 22 वें उपराज्यपाल बनने जा रहे हैं। लेकिन इस अहम जिम्मेदारी के साथ ही दिल्ली के नए एलजी के सामने कई चुनौतियां पहले ही स्वागत करने के लिए खड़ी हैं। इन चुनौतियों को सामना करते हुए उन्हें अपनी काबलियत और केंद्र के भरोसे को भी कायम रखना होगा।

यह भी पढ़ें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinay Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपाल



केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच सामंजस्य बैठाना
बतौर एलजी विनय कुमार सक्सेना ऐसे समय में अपना पद भार संभाल रहे हैं, जब दिल्ली की केजरीवाल सरकार और केंद्र सरकार के बीच कई मसलों पर मतभेद हैं। फिर चाहे वो दिल्ली के अधिकार की बात हो या फिर पुलिस से लेकर अन्य अधिकारियों को हक का सवाल, लगातार केंद्र और दिल्ली सरकार अपना-अपना पक्ष रखते आए हैं। ऐसे में विनय कुमार सक्सेना के सामने सबसे बड़ी चुनौती इन दोनों के बीच तालमेल बैठाना है।

नगर निगम के एकीकरण को सफल बनाना
नए एलजी के लिए नगर निगम के एकीकरण को सफल बनाने की बड़ी चुनौती भी होगी। क्योंकि दिल्ली की केजरीवाल सरकार लगातार नगर निगम को मर्ज किए जाने को गलत बता रही है, जबकि केंद्र सरकार इसे जनता के हित में लिया गया फैसला बता रही है। अब सारा दारोमदार नए एलजी पर होगा, कि वे किस तरह एमसीडी के मर्जर को सफल बनाएं।
मास्टर प्लान 241 पर फोकस
दिल्ली विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष होने के नाते उपराज्यपाल को इससे जुड़े मसलों पर भी फोकस करना होगा। ऐसे में नवनियुक्त उपराज्यपाल को दिल्ली के मास्टर प्लान 241 पर भी काफी ध्यान देना होगा। इस प्लान को अंतिम रूप देने की पूरी जिम्मेदारी एलजी के कंधों पर ही होगी।

यह भी पढ़ें

दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: शिवसेना के एक बागी विधायक का बड़ा दावा, कहा- 12 सांसद जल्द शिंदे खेमे में होंगे शामिल6 और मंत्रियों ने दिया इस्तीफा, Britain के पीएम बोरिस जॉनसन की बढ़ी मुश्किलेंनकवी के इस्तीफे के बाद स्मृति ईरानी बनीं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री, सिंधिया को मिला स्टील मंत्रालयVideo: 'हर घर तिरंगा' के सवाल पर बोले Farooq Abdullah, 'वो अपने घर में रखना', भड़के यूजर्सMalaysia Masters: पीवी सिंधू, साई प्रणीत और परूपल्ली कश्यप पहुंचे दूसरे दौर में, साइना नेहवाल हुई बाहरMaharashtra Politics: शिवसेना के संसदीय दल में भी बगावत? उद्धव ठाकरे ने भावना गवली को चीफ व्हिप के पद से हटायाMukhtar Abbas Naqvi ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्तीफा, बनेंगे देश के नए उपराष्ट्रपति?काली पोस्टर विवाद में घिरीं महुआ मोइत्रा के समर्थन में आए थरूर, कहा- 'हर हिन्दू जानता है देवी के बारे में'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.