scriptHimachal Congress Crisis : हिमाचल में खेल नहीं हुआ अभी खत्म, विक्रमादित्य सिंह ने FB-इंस्टाग्राम से हटाया ‘कांग्रेस’ का नाम | Himachal Congress Crisis: There will be a game again in Himachal, Vikramaditya Singh removed the name of 'Congress' from Facebook and Instagram | Patrika News

Himachal Congress Crisis : हिमाचल में खेल नहीं हुआ अभी खत्म, विक्रमादित्य सिंह ने FB-इंस्टाग्राम से हटाया ‘कांग्रेस’ का नाम

locationशिमलाPublished: Mar 02, 2024 11:48:31 am

Submitted by:

Shaitan Prajapat

Himachal Congress Crisis : हिमाचल प्रदेश में जारी राजनीति घमासान के बीच कैबिनेट मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने फिर बड़े संकेत दे दिए हैं। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर और विधायक को हटा दिया है।

himachal_political_crisis9.jpg

Himachal Congress Crisis : हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के लिए संकट अभी खत्म नहीं होता नजर आ रहा है। हिमाचल के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू और पर्यवेक्षक का कहना है कि सभी विधायकों की नाराजगी दूर हो गई है और सरकार में सबकुछ ठीक है। इसी बीच पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के बेटे और कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने फिर बड़े संकेत दे दिए हैं। इससे माना जा रहा है कि हिमाचल कांग्रेस में खेल खत्म नही हुआ है। विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया पर अपना प्रोफाइल का स्टेटस बदल दिया है।

विक्रमादित्य ने बदला प्रोफाइल का स्टेटस

राज्यसभा चुनाव के बाद से ही हिमाचल कांग्रेस में सियासी घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस सरकार डैमेज कंट्रोल में जुटी हुई है। इसी बीच विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट से पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर और विधायक को हटा दिया है। उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर मंत्री या विधायक के स्थान पर ‘हिमाचल का सेवक’ स्लग का इस्तेमाल किया है।

सियासी गलियारों में सुगबुगाहट तेज

विक्रमादित्य का सोशल मीडिया प्रोफाइल में यह बदलाव सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उनके इस फैसले से बार फिर सियासी गलियारों में सुगबुगाहट तेज हो गई है। सूत्रों के अनुसार प्रतिभा सिंह और विक्रमादित्य खेमे में अब भी नाराजगी है। यह एक बार खुलकर सामने आ गई है। ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि पहाड़ी राज्य में फिर से कोई राजनीतिक संकट खड़ा हो सकता है।

पहले भी जाहिर कर चुके है नाराजगी

आपको बता दें कि विक्रमादित्य सिंह ने सीएम के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए मंत्री पद से इस्तीफे का भी ऐलान किया था। आलाकमान का संदेश मिलने के बाद उन्होंने यूटर्न लेते हुए कहा कि अभी पार्टी को एकजुट रहने की जरूरत है। इसके बाद कैबिनेट की मीटिंग को बीच में छोड़कर चले गए। खबर आई थी कि चंडीगढ़ में बागी कांग्रेस विधायकों से मुलाकात की थी।

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो