script5वीं बटालियन के 15 आवासों पर चली जेसीबी, सीधी होगी वीआईपी रोड | Patrika News
समाचार

5वीं बटालियन के 15 आवासों पर चली जेसीबी, सीधी होगी वीआईपी रोड

– कलेक्टर की पहल पर निगम ने एसएएफ को किया 56 लाख का भुगतान
– लंबे समय से पेडिंग पड़ा था सडक़ सीधी करने का मामला, शहर के लोगों को मिलेगी राहत

मोरेनाJun 15, 2024 / 03:23 pm

Ashok Sharma

मुरैना. एमएस रोड (सिटी कोतवाली) से ग्वालियर हाईवे को जोडऩे वाली वीआईपी रोड की राह में बाधा बन रहे 5बी बटालियन के 15 आवासों को तोडऩे का काम शनिवार से शुरू हो गया। नगर निगम की जेसीबी ने आवासों को तोडऩा शुरू कर दिया। आवास टूटने के बाद वीआईपी रोड सीधे वनखंडी चौराहा से जुड़ जाएगी और वाहन चालकों को घुमावदार मोड़ों से मुक्ति मिलेगी।
गौरतलब है कि तत्कालीन कलेक्टर विनोद शर्मा ने शहर की एमएस रोड से ट्रैफिक का दबाव कम करने के लिए सिटी कोतवाली के सामने से वनखंडी चौराहा, पांचवी बटालियन से होकर एसएएफ पेट्रोल पंप-एसपी ऑफिस के सामने ग्वालियर हाईवे को जोडऩे वाली सडक़ का निर्माण 7 करोड़ की लागत से कराया। लेकिन सडक़ के बीचोंबीच एसएएफ के 15 आवास, जर्जर पंप आदि होने की वजह से सडक़ को 4 जगह से मोडऩा पड़ा। वहीं 5वीं बटालियन के अंदर एक साइड की सडक़ नहीं डल सकी। तभी से यह सडक़ अधूरी पड़ी थी।
-एसएएफ मांग रही थी 2.50 करोड़, कलेक्टर ने 56 लाख का भुगतान कराया
सालों से अधूरी पड़ी वीआईपी रोड को सीधा करने एसएएफ के 15 आवास तोडऩे और पंप हाउस हटाकर सडक निर्माण पूरा करने के एवज में एसएएफ 2.50 करोड़ रुपए बतौर मुआवजा मांग रही थी। निगम के पास इतनी धनराशि थी नहीं। ऐसे में कलेक्टर अंकित अस्थाना ने इस मामले में विशेष रुचि लेकर एसएएफ-निगम के बीच 56 लाख रुपए में समझौता कराया। यह राशि निगम ने एसएएफ में जमा करा दी, इसके बाद ही शनिवार को आवास तोडऩे का काम शुरू हुआ।
-वीआईपी रोड पर 4 अंधे मोड़ होंगे खत्म, ट्रैफिक जाम से मिलेगी निजात
एसएएफ आवास तोडऩे के बाद एसएएफ स्कूल से सीधा रोड वनखंडी तिराहे से जुड़ जाएगा। जिसकी वजह से चार जगह पर स्थित 90 डिग्री के अंधे मोड़ खत्म हो जाएंगे। वहीं सडक़ में जगह-जगह मोड़ से वनखंडी तिराहे पर लगने वाले ट्रैफिक जाम से भी मुक्ति मिलेगी।

Hindi News/ News Bulletin / 5वीं बटालियन के 15 आवासों पर चली जेसीबी, सीधी होगी वीआईपी रोड

ट्रेंडिंग वीडियो