पीएम मोदी यूपी के इस शहर को दिवाली पर देंगे मेट्रो की सौगात, मुंबई लोकल की तर्ज पर मिलेगी फास्ट सर्विस

पीएम मोदी यूपी के इस शहर को दिवाली पर देंगे मेट्रो की सौगात, मुंबई लोकल की तर्ज पर मिलेगी फास्ट सर्विस

Iftekhar Ahmed | Publish: Oct, 13 2018 09:17:06 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 09:17:07 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

NMRC ने अपनी सेवा में सुधार के लिए शुरू किया सर्वे

नोएडा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दिवाली पर नोएडा-ग्रेनो के लोगों को जल्द ही मेट्रों की सौगात देने वाले हैं। इस रूट पर चलने वाली ऐक्वा लाइन को लोगों के लिए कैसे ज्यादा से ज्यादा बेहतर बनाया जाए इसपर काम जारी है। इसी कड़ी में अब इस रूट पर मुंबई और कोलकाता लोकल के तर्ज पर सुविधा देने पर विचार किया जा रहा है। अगर ऐसा हुआ तो इस रूट पर सफर करने वाले लोगों का काफी समय बचेगा। बताया जा रहा है कि नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (NMRC) इस लाइन पर कुछ ट्रेनों का रूट ऐसा बनाएगी, जिससे कि उसे कुछ चुनिंदा स्टेशन्स पर रुकने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। गौरतलब है कि नोएडा से ग्रेटर नोएडा ऐक्वा लाइन की दूरी 29.7 किलोमीटर है। पूरे रूट पर 21 मेट्रो स्टेशन बनाए गए हैं। इन स्टेशनों में नोएडा सेक्टर-51 को जंक्शन माना गया है। यहां ब्लू लाइन से ऐक्वा लाइन मेट्रो को जोड़ा जाना है, मगर अभी इसमें काफी वरक्त लगने की संभावना है।


बताया जाता है कि मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने इसका प्लान तैयार कर लिया है। अगर ये संभव हुआ तो ऐसी ट्रेनें पीक आवर में कुछ स्टेशनों पर नहीं रुका करेंगी, जिससे इस मेट्रो में सफर करनेवालों का वक्त बच सकेगा। हालांकि,रेग्युलर चलनेवाली सर्विस पर इसका कोई असर नहीं होगा। रूटीन ट्रेनें हर स्टेशन पर रुकेंगी। हालांकि, अभी यह तय नहीं हुआ है कि स्पेशल मेट्रो किन स्टेशन्स पर नहीं रुकेंगी। अपनी सर्विस को बेतर बनाने के लिए NMRC ने एक प्रश्नावली तैयार की है। इसे इस रूट पर सफर करने वालों से भरवाया जा रहा है। प्लान के मुताबिक, शुरुआत में ऐसी ट्रेन्स हर 12 मिनट के गैप पर चलेंगी, लेकिन जरूरत के हिसाब से इसे 8 से 10 मिनट भी किया सकता है।

NMRC की प्रश्नावली में पूछे गए हैं ये सवाल
NMRC की प्रश्नावली में पूछा गया है कि आप ऐक्वा लाइन का कितना इस्तेमाल करेंगे। क्या उनके लिए एक्सप्रेस सर्विस का कुछ फायदा होगा। इसके साथ ही यह भी पूछा गया है कि आप किस वक्त ट्रैवल करना पसंद करते हैं। इनका जवाब 12 नवंबर तक मांगा गया है। इस प्रश्नावली के मुताबिक पीक आवर का मतलब सुबह 8 से दोपहर 12 और शाम 5 से रात 9 तक है। इस सर्वे की मदद से ही NMRC फीडर बसों के रूट और टाइम तय करेगी। इस मामले में NMRC के कार्यकारी निदेशक पीडी उपाध्याय ने कहा कि फिलहाल NMRC को 8 मेट्रो ट्रेनें मिल चुकी हैं। बाकी मुंबई के मुंड्रा स्टेशन आ गई हैं। यानी अक्टूबर के आखिरी हफ्ते तक NMRC के पास 11 ट्रेन हो जाएंगी। गौरतलब है कि ऐक्वा लाइन के इस दिवाली पर शुरू हो जाने की संभावना है।

 

आप भी ले सकते हैं सर्वे में हिस्सा
NMRC की सेवा में सुधार के लिए अाप भी अपनी राय दे सकते हैं। इसके लिए आपको www.nmrcnoida.com पर जाना होगा। यहां NMRC ने कुल 15 सवाल पूछे हैं। इसमें पूछे गए सवालों का जवाब देना। दरअसल, NMRC इसका एक रिकार्ड तैयार कर रहा है। इससे यह पता चल सकेगा कि ऐक्वा लाइन में कितने मुसाफिर सफर कर सकते हैं। इसी के अनुसार ट्रेनों के फेरे भी तय किए जा सकते हैं।

Ad Block is Banned