चंद्रशेखर उर्फ रावण की तबीयत खराब होने के पीछे बताया जा रहा इनका हाथ

चंद्रशेखर उर्फ रावण की तबीयत खराब होने के पीछे बताया जा रहा इनका हाथ

Rahul Chauhan | Publish: Sep, 16 2018 03:47:50 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 03:47:51 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ ‘रावण’ को लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार है।

नोएडा। जेल से छूटने के बाद जहां एक तरफ भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ ‘रावण’ को लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार है। वहीं को उनकी तबियत बिगड़ने के बाद वह फिर से सुर्खियों में हैं। इतना ही नहीं, इनकी तबीयत बिगड़ने के कारणों को लेकर भी बहस छिड़ गई है। उन्हीं के संगठन के लोग अलग-अलग बात कह रहे हैं।

यह भी पढ़ें : भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर द्वारा 'बुआ' कहने पर भड़कीं बसपा सुप्रीमो मायावती, कह दी ये बड़ी बात

कोई कह रहा है कि सीएम योगी के कारण उनकी तबीयत खराब हुई है तो कोई बसपा सुप्रीमो मायावती को इसकी वजह बता रहे हैं। वहीं कुछों का कहना है कि उन्हें गर्मी लग गई है, जिसके चलते उन्हें चक्कर आ गए और तबीयत बिगड़ गई। भीम आर्मी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय रतन ने पुष्टि करते हुए बताया कि चंद्रशेखर उर्फ रावण को चक्कर आ गए हैं। उन्होंने बताया कि एसिडिटी की वजह से ऐसा हुआ।

यह भी पढ़ें : मायावती का बड़ा बयान 'रावण' से नहीं, इन लोगों से है मेरा खास रिश्ता

गौरतलब है कि मायावती ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए लोग अब मुझसे रिश्ता बनाने की कोशिश कर रहे हैं। मेरा किसी के साथ भाई-बहन या बुआ-भतीजे का रिश्ता नहीं है। चंद्रशेखर मुझसे रिश्ता दिखा रहा है, जबकि मेरा सिर्फ गरीबों से रिश्ता है। ऐसे किसी भी व्यक्ति से मेरा रिश्ता नहीं है, जो समाज में ऐसा काम करते हैं। आज के समय में समाज में ऐसे बहुत से संगठन बनते चले आ रहे हैं जो अपना धंधा चलाते हैं।

यह भी पढ़ें : योगी सरकार के इस फरमान से इन पुलिस अफसरों में मचा हड़कंप, इनके लिए तैयार हुर्इ ये गाइडलाइन

चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण से मेरा कोई रिश्ता नहीं है। मैं करोड़ों लोगों की लड़ाई लड़ रही हैं तो फिर रावण को अलग से संगठन बनाने की जरूरत क्यों है? वह बसपा के झंडे के नीचे आकर ही लड़ाई लड़ें। वहीं अब यह लोग मायावती की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद तबीयत बिगड़ने को जोड़कर देख रहे हैं। उल्लेखनीय है कि जेल से निकलने के बाद चंद्रशेखर ने कहा था कि मायावती हमारी बुआ जी हैं। मैं उनका सम्मान करता हूं। उन्होंने गरीबों की लड़ाई लड़ी है। जिस पर बसपा सुप्रीमो मायावती की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है।

Ad Block is Banned