लोकसभा चुनाव से पहले BJP प्रदेश अध्यक्ष ने वेस्ट यूपी के इस नेता को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, क्षेत्रीय लोगों में भारी उत्साह

हाल ही में उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए पार्टी ने बनाया था प्रत्याशी। निर्विरोध हुए हैं निर्वाचित

By:

Published: 25 Apr 2018, 04:54 PM IST

बिजनौर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडे ने प्रदेश महामंत्री एवं हाल ही में विधानपरिषद के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए अशोक कटारिया को कानपुर-बुंदेलखंड का प्रभारी बनाकर एक नई जिम्मेदारी सौंपी है। दरअसल अशोक कटारिया पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद के मूल निवासी हैं। उनको एक और बड़ी जिम्मेदारी मिलने से समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई है।

यह भी पढ़ें-बड़ी खबर: देश में दस दिन तक इन जरूरी चीजों की सप्लाई हो जाएगी बंद, अभी से कर लें इंतजाम

अशोक कटारिया बिजनौर जिले में स्थित चांदपुर-नूरपुर क्षेत्र के गांव हीमपुर पृथ्या के रहने वाले हैं। पार्टी के प्रदेश नेतृत्व ने उऩकी कार्यकुशलता को देखते हुए प्रदेश महामंत्री के साथ ही उन्हें बुंदेलखंड व कानपुर क्षेत्र का प्रभारी घोषित कर दिया है। आपको बता दें कि अशोक कटारिया ने स्थानीय स्तर पर विद्यार्थी परिषद में कई वर्ष तक विभिन्न पदों पर काम किया। वे जमीन से जुड़े हुए नेता माने जाते हैं। इसलिए क्षेत्र के लोगों का उनसे अधिक जुड़ाव है। क्षेत्रीय लोगों के उनसे लगाव की झलक हाल ही में तब देखने को मिली थी जब उऩ्होंने 16 अप्रैल को जब विधानपरिषद के लिए नामांकन दाखिल किया था तो वहां भी उनके गृह जनपद के लोग एक दिन पहले ही पहुंच गए थे और नामांकन वाले दिन वे लोग उनके साथ रहे।

यह भी पढ़ें-इस अनोखी शादी के दीवाने हुए लोग, जब गांव में पहुंची दुल्हन तो उमड़ पड़ा हुजूम-देखें वीडियो

अशोक कटारिया का राजनीतिक सफर
विद्यार्थी परिषद से अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत करने वाले अशोक कटारिया वर्तमान में प्रदेश भाजपा के महामंत्री हैं। साथ ही अभी 20 अप्रैल को ही वे उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए चुने गए हैं। इससे पहले इन्हें मौजूदा उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या (तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष भाजपा) ने अपनी टीम में प्रदेश महामंत्री की जिम्मेदारी सौंपी थी, जिसे वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडे ने भी बरकरार रखा। इसके अलवा कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र का प्रभारी बनाकर एक बार फिर एक और नई जिम्मेदारी दे दी।

Ashok Katariya

माना जा रहा है कि कटारिया को ये जिम्मेदारी 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए दी गई। दरअसल अशोक कटारिया की गिनती संगठन के लिहाज महत्वपूर्ण लोगों में की जाती है। विद्यार्थी परिषद में काफी समय तक कार्य करने के कारण उनको संघ का भी आशीर्वाद प्राप्त है। इससे पहले कटारिया अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से 1988 में जुड़े। इसके बाद वे ABVP के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे। इसके बाद उन्हें भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया।

यह भी पढ़ें-पोस्‍ट ऑफिस की फ्रैंचाइजी लेकर कैसे कर सकते हैं हर महीने अच्‍छी कमाई, जानें इस खबर में

अशोक 2003 से 2007 तक भारतीय युवा मोर्चा के महामंत्री रहे। इसके बाद 2010 से 2011 युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए। कुल मिलाकर अशोक कटारिया भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा में प्रदेश मंत्री, प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रदेश महामंत्री रह चुके हैं। अशोक कटारिया की उम्र लगभग 45 वर्ष है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned