जब दरोगा और सिपाही ने डीजीपी को दिखाया पुलिसिया रौब तो..

दोनों ने झाड़ना शुरू कर दिया था पुलिसिया रौब

नोएडा. अक्सर देखने में आता है कि घटना होने पर पुलिस फारियादी को टरकाकर भगा देती है। लूट, छिनैती जैसी घटनाओं को पुलिस दर्ज करने में कतराती है। ऐसी घटनाओं को अक्सर पुलिस छूपाने का प्रयास करती है। यहां तक की फरियादी को पुलिसकर्मी पुलिसिया रौब तक दिखाती है। लेकिन ताजा मामला कुछ उलट ही है। चौकी पर तैनात दरोगा और एक सिपाही ने सूबे के सबसे बड़े अधिकारी को पहचाना नहीं और दोनों उनसे उलझ गए। सूबे के सबसे बड़े अधिकारी पर पुलिसिया रौब झाड़ना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: फेसबुक पर पत्नी ने किया ऐसा फोटो पोस्ट कि पति को जाना पड़ा थाना और फिर..

मामला सेक्टर-39 स्थित आम्रपाली पुलिस चौकी का है। लिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंंह एक मीटिंग में हिस्सा लेने के लिए दिल्‍ली जा रहे थे। वे अपनी थ्री स्टार लगी गाड़ी में सवार थे, जबकि एस्‍कॉर्ट भी साथ थी। डीजीपी गुजरते समय सेक्‍टर-30 की आम्रपाली पुलिस चौकी के पास पहुंचे। चौकी पर इंस्पेक्टर हरिभान सिंह और कांस्टेबल योगेश कुमार तैनात थे। ये दोनों चौकी के बाहर खड़े हुए थे। चौकी का निरीक्षण करने के लिए डीजीपी रुक गए। बताया गया है कि सिपाही की वर्दी भी ठीक नहीं थी। सिविल ड्रेस में पहुंचे डीजीपी को सिपाही व दरोगा पहचान नहीं पाए।

दोनों ने उन्हें सैल्यूट भी नहीं किया। डीजीपी ने उनसे जवाब-तलब किया तो दोनों पुलिसकर्मियों ने उन्हें उलटी ही नसीहत दे डाली और अपना काम करने को कह डाला। इसी बात को लेकर डीजीपी नाराज हो गए। डीजीपी ने एसएसपी अजयपाल शर्मा को फोन कर पूरे मामले की जानकारी दी। उधर, मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। आनन—फानन में जिले के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। एसएसपी अजय पाल शर्मा ने बताया कि दरोगा और सिपाही चौकी पर थे। एसएसपी ने बताया कि एसआई और कांस्टेबल ने ड्यूटी के समय अपनी टोपी नहीं पहन रखी थी। दोनों ही डीजीपी और उनके वाहन को नहीं पहचान पए। साथ ही उनका पूरा रवैया लापरवाही भरा था। उन्होंने बताया कि डीजीपी दोपहर करीब 2 बजकर 30 मिनट पर पहुंचे थे।

एसएसपी ने पुलिसिया रौब दिखाने की बात से इंकार किया है। उधर एसएसपी ने जिले में तैनात अधिकारी व पुलिसकर्मियों को वर्दी सही पहनने के निर्देश दिए है। साथ ही उन्होंने निर्देश दिए है कि अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर कोई पुलिसकर्मी अनुशासनहीनता करता हुआ मिलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साथ ही आमलोगों से कुशल व्यवहार रखने के लिए भी कहा है।

यह भी पढ़ें: 5 माह बाद फोन में बजी थी ऐसी रिंगटोन कि खुल गया हत्या का राज

Show More
virendra sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned