FIFA वर्ल्ड कप का खुमार, इस शहर के डीएम ने बांट दी निशुल्क फुटबाल, युवाओं को खेल के प्रति किया जागरूक

FIFA वर्ल्ड कप का खुमार, इस शहर के डीएम ने बांट दी निशुल्क फुटबाल, युवाओं को खेल के प्रति किया जागरूक

Ashutosh Pathak | Publish: Jul, 13 2018 02:28:27 PM (IST) | Updated: Jul, 13 2018 02:28:28 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

युवाओं को निशुल्क फुटबॉल बाट कर उन्हें खेल के प्रति किया जागरुक

नोएडा। फीफा वर्ल्ड कप फुटबाल का खुमार पूरे विश्व में छाया हुए है ऐसे भारत में भी इसकी खुमारी छाई हुई है। लेकिन सूबे के गौतम बुद्ध नगर जिले के डीएम ने एक अनोखी पहल की है। डीएम बीएन सिंह ने गांव के युवाओं को निशुल्क फुटबॉल बाट कर उन्हें खेल के प्रति जागरुक किया। फुटबॉल पानेके बाद जहां बच्चों के चेहरे खिल गए, वहीं जिलाअधिकारी ने ग्रामिणों से अपने बच्चों को खेल के प्रति बढ़ावा देने की अपील की।

ये भी पढ़ें: बाइक सवार बदमाशों ने 13 साल के फैजान को मारी गोली, दो दिन पहले भी एक एक मुस्लिम युवक को मारी गई थी गोली, पुलिस के हाथ अब तक खाली

देश में खेलो इंडिया को बढ़ावा देने के लिए डीएम बीएन सिंह ने खिलाड़ियों में नई अलख जगाई है। जिलाधिकारी ने मलकपुर स्पोर्ट्स स्टेडियम में निशुल्क फुटबाल का वितरण करते हुए लोगों से खेल को ग्रामीण क्षेत्रो में जिंदा रखने की अपील की। इस दौरान उन्होंने बालक-बालिकाओ को खेलो के प्रति जागरूक किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का सपना है ग्रामीण क्षेत्रो में खेल बढ़े। अधिकांश ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाये आगे नहीं आ रही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर गांव में ही खेल के मैदान होंगे तो बालिकाएं भी खेल में आगे निकल कर आयेंगी।

ये भी पढ़ें: किराए पर घर देने के लिए लगाते हैं 'टू लेट' का बोर्ड, तो हो जाएं सावधान, आप के घर में हो सकती है ये वारदात

इस दौरान बीएन सिंह ने गांव के खिलाड़ियो व युवाओं को निशुल्क फुटबाल बाटकर गुज़ारिश की है ग्रामीण क्रीड़ा स्थलों को खेलो के माध्यम से आबाद रखे ताकि आने वाले युवाओं के लिये खिलाड़ी प्रेरणास्रोत बने। उन्होंने कहा कि खेल विभाग को दिशा निर्देश दिये की खेल विभाग सभी गांवों में खेल सामान उपलब्ध कराये।

ये भी पढ़ें: अब बीजेपी नेता का विवादित बयान, हिंदू-मुस्लिम जनसंख्या को लेकर कह दी इतनी बड़ी बात

वहीं ज़िला खेल अधिकारी सुनील जोशी ने बताया कि केंद्र व राज्य सरकार का लक्ष्य खेलो इंडिया खेलो का लाभ ग्रामीण क्षेत्र के बालक और बालिकाओं तक पहुंचाया जायेगा, ताकि भविष्य में हम अच्छे खिलाड़ी तैयार कर सके। फुटबाल मिलने के बाद बालिकाएं काफी खुश नज़र आई। भारतीय आदर्श इंटर कॉलेज की छात्रा मोनिका कहती है वह अब इस खेल को गंभीरता से खेलना शुरू करेगी और अन्य लड़कियो को इसके साथ जोड़ेंगी।

ये भी पढ़ें: अब बड़े बिजली चोरों पर शिकंजे की बारी, विभाग ने की है यह बड़ी तैयारी

 

Ad Block is Banned