PF Benefits: नौकरी छोड़ने या बदलने पर तुरंत नहीं निकालें पीएफ का पैसा, जानिए इसके फायदे

Highlights:

-कर्मचारियों के पीएफ खाते में हर माह जामा होता है फंड

-फंड को बहुत जरूरत होने पर ही निकालें

-पीएफ फंड पर मिलते हैं कई तरह के लाभ

By: Rahul Chauhan

Published: 17 Nov 2020, 10:19 AM IST

नोएडा। नौकरी करने वाले लोगों के लिए पीएफ बहुत अहम होता है। तभी इसे बुरे वक्त में काम आने वाला फंड भी कहा जाता है। नौकरीपेशा कर्मचारियों की सैलरी से एक हिस्सा काटकर उसे पीएफ अकाउंट में जमा कराया जाता है। इसके अवाला कंपनी की तरफ से भी कुछ राशि कर्मचारी के पीएफ खाते में जमा कराई जाती है। इस फंड को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) मैनेज करता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि नौकरी छोड़ने या बदलने पर तुरंत पीएफ निकालने से आपको नुकसान हो सकता है।

यह भी पढ़ें: कच्चा प्याज खाने से नहीं होंगी ये गंभीर बीमारियां, डाइट में जरूर करें शामिल

दरअसल, नोएडा ईपीएफओ क्षेत्रीय कार्यालय अधिकारी बताते हैं कि पीएफ फंड में जमा राशि को सिर्फ बहुत अपरिहार्य स्थिति में ही निकालना चाहिए। क्योंकि पीएफ खाते एवं पीएफ फंड में जो पैसे जमा होते हैं वह आपको कई तरह के लाभ दे सकते हैं। लेकिन बहुत ही कम लोगों को इसकी जानकारी होती है। इसलिए जानकार यह सलाह देते हैं कि पीएफ फंड को लंबे समय तक खाते में ही रहने दिया जाएगा। आइए जानते हैं पीएफ से जुड़े खास फायदों के बारे में-

-EPF खातों में कई अन्य स्कीम के मुकाबले अधिक ब्याज मिलता है। चालू वित्त वर्ष में EPFO ने 8.5 फीसद ब्याज देने का ऐलान किया है।

-आपको इनकम टैक्स एक्ट की धारा 80 (C) के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है।

-पीएफ स्कीम के तहत कर्मचारी को कुछ शर्तों के साथ आजीवन पेंशन भी मिलती है।

-अगर किसी कर्मचारी का फंड नियमित तौर पर खाते में जमा होता रहा है और दुर्भाग्यपूर्ण उसकी मौत हो जाती है तो परिवार के सदस्य इंश्योरेंस स्कीम, 1976 का लाभ उठा सकते हैं। इसके तहत उन्हें आखिरी सैलरी के 20 गुना के बराबर पैसे मिल सकते हैं। यह राशि अधिकतम 6 लाख रुपये तक हो सकती है।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned