एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : कोरियाई पहलवान को हराकर दिव्या काकरान ने जीता स्वर्ण

कजाख्‍स्‍तान में चल रही एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भारतीय पहलवान शानदार प्रदर्शन कर रहे है।
पुरबालियान की बेटी दिव्या काकरान अपना मुकाबला जीतकर स्वर्ण पदक हालिस कर लिया है।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 17 Apr 2021, 01:54 PM IST

नई दिल्ली। कजाख्‍स्‍तान में चल रही एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भारतीय पहलवान शानदार प्रदर्शन कर रहे है। पुरबालियान की बेटी दिव्या काकरान अपना मुकाबला जीतकर स्वर्ण पदक हालिस कर लिया है। शुक्रवार को यहां फाइनल में 72 किलोग्राम भार वर्ग में दिव्या काकरान ने कोरिया की महिला पहलवान को पटकनी गोल्ड मेडल पर कब्जा किया है। महिला पहलवान दिव्या काकरान ने एशियन सीनियर कुश्ती चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर गांव, क्षेत्र और देश का नाम रोशन किया है। दिव्या के गोल्ड मेडल जीतने से उसके परिवार, गांव में खुशी की लहर है। ओलंपिक टिकट हासिल कर चुकी विनेश फोगाट (53 किग्रा) और युवा सनसनी अंशु मलिक (57 किग्रा) ने भी स्वर्ण पदक हासिल किये।

यह भी पड़ें :— ICC ODI Ranking : विराट कोहली को पछाड़ पाकिस्तानी क्रिकेटर बाबर आजम बने नंबर 1 बल्लेबाज

दूसरी बार एशियन चैंपियनशिप में जीता गोल्ड
रेलवे की तरफ से दिव्या ने इस चैंपियनशिप में हिस्सा लिया है। उन्होंने लगातार दूसरी बार एशियन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। क्वार्टर फाइनल में दिव्या का मुकाबला मंगोलिया की महिला पहलवान से हुआ। उसको पटकनी देकर दिव्या ने सेमीफाइनल में अपना स्थान पक्का किया। मेजबान देश कजाखस्तान की महिला मल्ल को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। फाइनल मे दिव्या का कोरिया की पहवान के साथ कड़ा मुकाबला हुआ।

पहलवान सूरजवीर की बेटी है दिव्या काकरान
दिव्या काकरान मंसूरपुर क्षेत्र के गांव पुरबालियान निवासी सूरजवीर पहलवान की बेटी है। अंतरराष्ट्रीय अर्जुन अवॉर्डी दिव्या के पिता पहलवान सूरजवीर ने बताया कि बेटी ने कजाकिस्तान में 13 अप्रैल से तक चल रही सीनियर एशियन कुश्ती चैंपियनशिप में 72 किलोग्राम वर्ग में शुक्रवार को सेमीफाइनल में कजाकिस्तान की पहलवान को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। फाइनल मुकाबले में उन्होंने कोरिया की महिला पहलवान को हराकर गोल्ड जीता है।

यह भी पढ़े : सचिन तेंदुलकर ने 15 साल की उम्र में बनाया था अपना पहला CV, जानिए सीवी की दिलचस्प बातें


अब तक 74 मेडल जीत चुकी है दिव्या
दिव्या फरवरी में कोरोना पाजिटिव हो गई थीं। कोरोना की वजह से उनको कई प्रकार दिक्कत का सामना करना पड़ा। अखाड़े की परफारमेंस में कुछ कमी आ गई थी लेकिन दिव्या ने एक बार फिर से आत्मबल का परिचय देते हुए शानदार वापसी की। दिव्या काकरान के कॅरियर की बात करें तो उन्होंने अब तक कई कुश्ती प्रतियोगिताओं भाग लिया है। दिव्या ने अभी तक कुश्ती प्रतियोगिताओं में 74 पदक जीते हैं। इनमें से 55 गोल्ड मेडल, सात सिल्वर तथा 12 कांस्य पदक हैं। भारत केसरी, राजस्थान केसरी, जम्मू कश्मीर केसरी, उत्तर प्रदेश केसरी का खिताब भी इनके नाम हैं।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned