पाक के मंत्री फवाद हुसैन ने कश्मीर पर दिया बड़ा बयान, भारत को दी युद्ध की धमकी

पाक के मंत्री फवाद हुसैन ने कश्मीर पर दिया बड़ा बयान, भारत को दी युद्ध की धमकी

Mohit Saxena | Updated: 06 Aug 2019, 04:49:47 PM (IST) पाकिस्तान

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने दिया आपत्तिजनक बयान
  • फवाद ने कहा कि कश्मीर में मानवाधिकार का उल्लंघन हो रहा

इस्लामाबाद। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को खत्म करने के बाद पाकिस्तान में बौखलाहट है। इमरान सरकार के एक मंत्री ने भारत को युद्ध की धमकी दे डाली है। पाक मंत्री का कहना है कि भारत, पाकिस्तान को फिलिस्तीन बनाने की कोशिश कर रहा है। इमरान खान सरकार के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि संसद में बेकार के विषयों पर उलझने के बजाय हमें भारत का जवाब खून, आंसू और पसीने से देना होगा। हमें जंग के लिए तैयार रहना चाहिए।

निर्दोष लोगों पर अत्याचार और बर्बरता दिखा रहा भारत

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने सोमवार को कहा कि भारत कश्मीर के निर्दोष लोगों पर अत्याचार और बर्बरता कर रहा है। कश्मीर एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त विवादित क्षेत्र था और कश्मीरियों को आत्मनिर्णय के मूल अधिकार देने के लिए संयुक्त राष्ट्र (यूएन) के प्रस्तावों के अनुसार हल होना चाहिए। उन्होंने मीडिया में कहा कि कश्मीरी लोग इस कारण के लिए सर्वोच्च बलिदान दे रहे थे।

आर्टिकल 370 पर फैसले से बौखलाए पाक ने भारतीय उच्चायुक्त को किया तलब, दर्ज की आपत्ति

 

उन्होंने कहा कि भारत एक प्रगतिशील और लोकतांत्रिक राष्ट्र नहीं है, बल्कि एक फासीवादी हिंदू राष्ट्र है। यह कब्जे वाली घाटी में घोर मानव अधिकारों का उल्लंघन कर रहा है। उन्होंने संयुक्त राज्य अमरीका और अन्य अंतरराष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया कि वे निर्दोष कश्मीरियों पर इस तरह की क्रूरता को रोकने के लिए भारत पर दबाव डालें।

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन

फवाद हुसैन ने कहा कि धारा 370 को खत्म करना कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि भारत ने कश्मीर मुद्दे को लेकर अपने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के रुख को दफन कर दिया था। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि भारत के किसी भी दुस्साहस या आक्रामकता का सामना करने के लिए पाकिस्तान तैयार है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned