scriptPakistan: Mob lynches Sri Lankan factory manager over | सियालकोट में भीड़ द्वारा मारे गए श्रीलंकाई ने 'गलतफहमी के लिए मांगी थी माफी' | Patrika News

सियालकोट में भीड़ द्वारा मारे गए श्रीलंकाई ने 'गलतफहमी के लिए मांगी थी माफी'

शुक्रवार को पाकिस्तान के सियालकोट में भीड़ ने एक श्रीलंकाई नागरिक की पीट-पीटकर मार दिया। भीड़ ने श्रीलंकाई नागरिक के शव को जला भी दिया। पूरी घटना होने के बाद स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए भारी पुलिस बल को इलाके में भेजा गया। सियालकोट जिले के पुलिस अधीक्षक उमर सईद मलिक ने बताया कि मृतक श्रीलंकाई नागरिक का नाम प्रियंता कुमारा था। यह घटना सियालकोट के वजीराबाद रोड पर हुई।

नई दिल्ली

Published: December 05, 2021 11:08:21 pm

नई दिल्ली।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सियालकोट शहर में शुक्रवार को हुई श्रीलंकाई नागरिक प्रियंता कुमारा की निर्मम हत्या मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दो प्रमुख संदिग्धों ने पुलिस के सामने फैक्टरी में निर्यात प्रबंधक पद पर नियुक्त प्रियंता कुमारा प्रबंधक की यातना और हत्या में शामिल होने की बात कबूल कर ली है। प्रियंता कुमारा जो सियालकोट के वजीराबाद रोड पर एक निजी कारखाने में प्रबंधक के रूप में काम कर रहे थे को 3 दिसंबर को ईशनिंदा के आरोपों में भीड़ द्वारा मौत के घाट उतार दिया गया और उनके शव को आग लगा दी गई। जांच से जुड़े सूत्रों ने बताया कि पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री को शुरूआती रिपोर्ट पेश कर दी है। प्रांतीय सरकार द्वारा दी गई प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार, विवाद तब सामने आया जब प्रियंता कुमारा ने सुबह 10:28 बजे कारखाने की दीवारों से कुछ पोस्टर हटा दिए। द न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पोस्टरों पर पवित्र पैगंबर का नाम लिखा हुआ था।
imran.jpg
कुछ ही देर में फैक्ट्री मालिक मौके पर पहुंचा और मामले को सुलझाया। रिपोर्ट में कहा गया है कि कुमारा ने अपनी ओर से गलतफहमी के लिए माफी मांगी थी। कुमारा द्वारा माफी मांगने के बाद, कथित तौर पर मामले को सुलझा लिया गया और कारखाने के कर्मचारी तितर-बितर हो गए। रिपोर्ट में कहा गया है कि कुछ कार्यकतार्ओं ने अपने सहयोगियों को प्रबंधक पर हमला करने के लिए उकसाया था।
यह भी पढ़ें
-

रिपोर्ट: ओमिक्रान से बुजुर्गों को राहत, युवाओं और बच्चों को सबसे ज्यादा खतरा, जापान, इजराइल समेत कुछ देशों ने अपनी सीमाएं सील कीं

कुछ ही मिनटों में, भीड़ ने औद्योगिक इकाई के परिसर के भीतर पीड़ित पर हमला किया और अंतत: उन्हें मार डाला। जिस समय क्रूर हमला हो रहा था, उस समय कारखाने में कुल 13 सुरक्षा गार्ड मौजूद थे। रिपोर्ट में कहा गया है कि उनमें से किसी ने भी पीड़ित को बचाने या भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश नहीं की। कुमारा के शव को बाद में कारखाने के बाहर घसीटा गया और जला दिया गया।
अधिकारियों ने कहा कि पुलिस को घटना के बारे में सुबह 11:28 बजे एक फोन आया। उन्होंने बताया कि 12 मिनट के भीतर एक पुलिस दल घटनास्थल पर पहुंच गया। बाद में संदिग्धों को पकड़ने और गिरफ्तार करने के लिए भारी पुलिस बल को घटनास्थल पर भेजा गया।
यह भी पढ़ें
-

चीन ने अमरीका के लोकतंत्र सम्मेलन पर उठाया सवाल, कहा- अमरीकी लोकतंत्र बेहद गंभीर रूप से बीमार

बताया जा रहा है कि प्रियंता कुमारा यहां एक फैक्टरी में निर्यात प्रबंधक पद पर कार्यरत थे। फैक्टरी के मजदूरों की किसी बात को लेकर निर्यात प्रबंधक प्रियंता कुमारा से विवाद शुरू हुआ। इसके बाद भीड़ हिंसक हो गई और उसने प्रियंता पर हमला कर दिया। भीड़ ने प्रियंता की पीट-पीटकर हत्या कर दी और शव को जला दिया। सोशल मीडिया पर साझा किए गए वीडियो में सैकड़ों पुरुष और युवा लड़के मौके पर मौजूद दिखाई दे रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Army Day 2022: सेना प्रमुख MM Naravane ने दी चीन को चेतावनी, कहा- हमारे धैर्य की परीक्षा न लेंUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावUttar Pradesh Assembly Elections 2022: टूटेगी मायावती और अखिलेश की परंपरा, योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से लड़ेंगे विधानसभा चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up DayHaryana: सरकार का निर्देश, बिना वैक्सीन लगाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्रीUP Election: सपा RLD की दूसरी लिस्ट जारी, 7 प्रत्याशियों में किसी भी महिला को नहीं मिला टिकटजम्मू कश्मीर में Corona Weekend Lockdown की घोषणा, OPD सेवाएं भी रहेंगी बंद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.