किसानों पर लाठीचार्ज और कृषि अध्यादेश के विरोध में आज हरियाणा बंद

सरकार ने जारी किया सहायता नम्बर, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा- बातचीत से हो समस्या का समाधान

By: Bhanu Pratap

Published: 20 Sep 2020, 10:14 AM IST

पानीपत। भारतीय किसान यूनियन समेत सभी किसान संगठनों ने 20 सितम्बर को हरियाणा बंद का आह्वान किया है। कारण है केन्द्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि अध्यादेश, किसानों पर लाठीचार्ज और मुकदमे। पंजाब क कांग्रेस नेता भी समर्थन दे रहे हैं। इससे इस बात की आशंका बलवती हो गई है कि किसान संगठन पंजाब, राजपुरु और लालड के पास जमा लगा सकते हैं। ऐसे में पंजाब-दिल्ली मार्ग जाम हो जाएगा। हरियाणा में किसी भी वाहन को न आने देने की भी प्लानिंग है। इसे देखते हुए व्यापक सुरक्षा का निर्दश दिया गया है। हरियाणा सरकार ने कहा है कि हिंसा नहीं होने दी जाएगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किसानों से कहा है कि बातचीत से समस्या का समाधान करें।

ये मार्ग हो सकते हैं जाम
मोहड़ा (अम्बाला), जीटी रोड, यमुनानगर-पंचकूला राष्ट्रीय राज मार्ग, नारायण गढ़,बरवाला, दोसड़का, यमुनानगर से पीपली-करनाल मार्ग पर रादौर के आसपास, लाडवा, इंद्री, करनाल व कुरुक्षेत्र मंडी के आसपास, सिरसा, हिसार, अलग अलग स्थानों पर, पानीपत में शिवा गांव जीटी रोड, पानीपत-जींद रोड पर मतलौडा के करीब, पानीपत-रोहतक रोड पर इसराना, गोहाना इत्यादि स्थानों पर सड़कें जाम करने का प्रयास किया जाना है। इसे देखते हुए हरियाणा के गृह सचिव विजयवर्धन ने चिकित्सा विभाग के सभी कर्मचारियों का छुट्टी रद्द कर दी है। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से कहा है कि वे किसानों से बात करें। यातायात बाधित नहीं होने दें।
यहां करें संपर्क

किसानों के आंदोलन के कारण अगर किसी को किसा भी तरह की सहायता चाहिए तो गृह सचिव के नियंत्रण कक्ष (0172-2711925) पर संपर्क किया जा सकता है। हरियाणा सरकार की चिन्ता यह है कि अगर दिल्ली से सटे इलाकों में किसान सड़क पर उतर आए तो समस्या खड़ी हो सकती है।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned