राहुल के 15 मिनट चैलेंज पर बड़ा सवालः ऐसे रिकॉर्ड से पीएम मोदी को कैसे धूल चटाएंगे?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में सिर्फ 15 मिनट बोलकर चारों खाने चित्त करने की चुनौती पेश की है।

By:

Published: 25 Apr 2018, 10:49 AM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में सिर्फ 15 मिनट बोलकर चारों खाने चित्त करने की चुनौती पेश की है। लेकिन मौजूदा संसदीय कार्यकाल का रिकॉर्ड देखा जाए तो खुद उनकी स्थिति चिंताजनक नजर आती है। जिन विवादित मुद्दों के दम पर राहुल प्रधानमंत्री को घेरने की रणनीति बना रहे हैं, मौका मिलने पर उन्होंने उन मुद्दों पर कुछ बोला ही नहीं।

इन मुद्दों पर घेरने की है रणनीति
राहुल गांधी जिन मुद्दों पर मोदी को घेरने की बात कर रहे हैं, उन पर वे जनसभाओं में तो कई बार बोल चुके हैं। लेकिन बात संसद की हो तो कुछ खास नजर नहीं आता। इन मसलों में राफेल डील और नीरव मोदी शामिल हैं। राफेल का मामला गर्म होने के बाद हाल ही में राहुल तीन बार संसद में बोल चुके हैं, लेकिन एक बार भी इस मुद्दे का जिक्र नहीं हुआ।

ये है राहुल का लोकसभा रिकॉर्ड
अमेठी से सांसद राहुल गांधी मौजूदा कार्यकाल में 11 बार संसद में बोल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने करीब 1 घंटा 40 मिनट तक विभिन्न मसलों पर अपने विचार रखे। उनकी उपस्थिति भी करीब 50 फीसदी ही है। इस कार्यकाल में राहुल ने राफेल के मुद्दे पर संसद में एक भी सवाल नहीं पूछा है। इसके अलावा निजी तौर पर उन्होंने संसद में कोई बिल प्रस्तावित नहीं किया है।

मोदी-जिनपिंग मुलाकातः पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव पर बातचीत संभव, पहले ये था चीन का रुख

क्या है राफेल डील मामला और नीरव मोदी मामला
भारत सरकार ने फ्रांस से 36 लड़ाकू विमान राफेल की खरीद के लिए सौदा किया है। कांग्रेस का आरोप है कि मोदी सरकार ने इन विमानों के लिए यूपीए की तुलना में तीन गुना ज्यादा कीमत चुकाई है। कांग्रेस ने राजस्व हानि का सवाल उठाते हुए कहा है कि यूपीए सरकार ने इन विमानों का सौदा 526.1 करोड़ रुपए में तय किया था, लेकिन मोदी सरार इसके लिए 1570.8 करोड़ खर्च कर रही है। कांग्रेस इस मामले में प्रधानमंत्री पर नियमों की अवहेलना करते हुए खुद ही फैसला करने का भी आरोप लगाया है। इसी तरह नीरव मोदी के भारत छोड़ने को लेकर भी कांग्रेस मोदी को निशाने पर ले रही है। नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक को हजारों करोड़ रुपए की चपत लगाने का आरोप है।

नीरव मोदी की कंपनी को दिवालियापन से बचा रही मोदी सरकार, जानिए क्यों?

Prime Minister Narendra Modi
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned