scriptBihar Assembly Election 2020: Chief Election Commissioner Sunil Arora burnt election bugle, announces biggest election in Corona era | Bihar Assembly Election 2020 : 3 चरणों में होंगे चुनाव, 10 नवंबर को आएंगे चुनाव परिणाम | Patrika News

Bihar Assembly Election 2020 : 3 चरणों में होंगे चुनाव, 10 नवंबर को आएंगे चुनाव परिणाम

  • कोरोना वायरस के बीच दुनिया के 70 देशों में चुनाव टाला गया।
  • बिहार विधानसभा चुनाव कोरोना काल का सबसे बड़ा चुनाव है।

नई दिल्ली

Updated: September 25, 2020 07:27:37 pm

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी और बाढ़ की विभीषिका के बीच चुनाव आयोग ने शुक्रवार को बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान कर दिया। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इससे पहले दिल्ली विधानसभा का चुनाव हुआ था और अब बिहार विधानसभा का चुनाव होने जा रहा है। इस बीच माहौल बदल गया है। पहले सामान्य परिस्थितियों में चुनाव हुए थे, लेकिन अब कोरोना वायरस महामारी के बीच यह चुनाव हो रहा है। कोविद-19 के दौर में बिहार विधानसभा का चुनाव दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव है। उन्होंने कहा दुनिया के 70 देशों में चुनाव टाला गया है, लेकिन हमने चुनाव कराने का फैसला लिया है।
Bihar Assembly Election 2020
चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर तारीखों का ऐलान किया।
Highlights :

बिहार में तीन चरणों में होंगे चुनाव।
पहले चरण में 71 सीटों पर होंगे मतदान।
दूसरी चरण में 94 सीटों पर मतदान।
तीसरे चरण में 78 सीटों पर मतदान।
पहले चरण में 28 अक्टूबर को वोटिंग।
दूसरे चरण में 3 नवंबर को मतदान।
तीसरे चरण में 7 नवंर को मतदात होगा।
10 नवंबर को चुनाव के नतीजे आएंगे।
कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज आखिरी घंटे में वोट डालेंगे।
पांच से ज्यादा लोग घर जाकर प्रचार नहीं करेंगे।
मतदान का समय एक घंटे बढ़ाया गया।
कोरोना मरीजों के लिए अलग से व्यवस्था होगी।
चुनाव प्रचार मूल रूप से वर्चुअल ही होगा।
डीएम छोटी रैली की जगह और वक्त तय करेंगे।
हर पोलिंग बूथ पर साबुन, सैनिटाइजर समेत अन्य चीजों की व्यवस्था की जाएगी।
प्रत्याशी सिक्योरिटी डिपॉजिट आनलाइन जमा कराएंगे।
सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल पर होगी सख्त कार्रवाई।
तनाव बढ़ाने वाले तत्वों पर होगी सख्त कार्रवाई।
हेट स्पीच देने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।
बिहार में कुल मतदाता 7 करोड़ 79 लाख।
इनमें पुरुष वोटर 3 करोड़ 79 लाख हैं।
महिला मतदाताओं की संख्या 3 करोड़ 39 लाख
6 लाख पीपीई किट का होगा इस्तेमाल।
सुबह सात बजे से शाम 6 बजे तक होगी वोटिंग।
प्रत्याशी नामांकन आनलाइन और आफलाइन भर सकेंगे।
एक बूथ पर सिर्फ एक हजार मतदाता डाल पाएंगे वोट।
चुनाव के दौरान 46 लाख शील्ड मास्क का इस्तेमाल होगा।
Farooq Abdullah का भड़काऊ बयान- कश्मीर में आजादी की बात बेमानी, हर जगह एके-47 लिए सुरक्षाकर्मी

इस बार बिहार का चुनाव बड़ी चुनौती

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में लगभग 7 करोड़ 29 लाख मतदाता अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का प्रयोग करेंगे। इस बार विधानसभा चुनाव भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के तहत ही होंगे। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए फेस मास्क, हैंड सैनिटाइजर, शरीर का तापमान मापने के इंतजाम, पहले की तुलना काफी ज्यादा संख्या में पोलिंग स्टेशन, सुरक्षा बलों की तैनाती, ईवीएम मशीन व अन्य मानवीय व भौतिक संसाधनों का इंतजाम करना होगा। यही वजह है कि इस बार बिहार विधानसभा का चुनाव ईसी के लिए काफी अहम और चुनौतियों से भरा होगा।
डेढ़ गुना बढ़ाई गई मतदान केंद्रों की संख्या

कोरोना संकट के बीच देश में ये पहला विधानसभा चुनाव है। लिहाजा, चुनाव आयोग ने कोविद-19 प्रोटोकॉल के मुताबिक गाइडलाइंस पहले की जारी कर दिए हैं। इस बार मतदान केंद्रों की संख्या डेढ़ गुना से ज्यादा बढ़ा दी गई हैं। मतदान कर्मियों की संख्या भी बढ़ाई गई हैं। जबकि हर मतदान केंद्र पर मतदाताओं की तादाद घटाकर सीमित कर दी गई हैं।
देश के 65 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव

चुनाव आयोग ने 4 सितंबर को घोषणा कर बताया था कि बिहार विधानसभा चुनाव के साथ एक लोकसभा सीट सहित 65 लंबित उपचुनावों को भी कराने का फैसला लिया है। इन सीटों पर उपचुनाव को लेकर ईसी से चुनाव की घोषणा कर दी है।
एनडीए और महागठबंधन आमने-सामने

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 की तुलना में इस बार बिहार का चुनाव थोड़ा अलग होगा। ऐसा इसलिए कि 2015 में बीजेपी अकेले पड़ गई थी। बीजेपी के खिलाफ सभी पार्टियों ने विशाल महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ा था। इस बार एनडीए में बीजेपी, जेडीयू, हम और एलजेपी शमिल हैं। जबकि महागठबंधन में कांग्रेस, आरजेडी, आरएलएसपी, वीआईपी, सीपीएमएल व अन्य वामपंथी पार्टियां व अन्य शामिल हैं। इस बार बीजेपी की स्थिति बहुत बेहतर है। एनडीए ने अपना चुनावी चेहरा नीतीश कुमार को बनाया है। जबकि महागठबंधन की ओर से चुनावी चेहरा को लेकर रार मची है।
243 विधानसभा सीटों पर होंगे चुनाव

बिहार में विधानसभा की कुल 243 विधानसभा सीटें हैं। वर्तमान में जेडीयू, बीजेपी और एलजेपी गठबंधन की सरकार सत्ता में है। वर्तमान में आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है। आरजेडी के पास 79 सीटें हैं। इसके अलावा जेडीयू के पास 71, बीजेपी के पास 52, एलजेपी के पास 2, हम के पास 1, कांग्रेस के पास 27, सीपीएमएल के पास 3, निर्दलीयों के पास 5, एआईएमआईएम 1 और खाली सीटें शामिल हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक मामले की जांच कर रहीं जस्टिस इंदु मल्होत्रा को SFJ ने दी धमकीहरक रावत की बीजेपी से छुट्टी पर सीएम पुष्कर धामी का बड़ा बयान, बोले- पार्टी पर बना रहे थे दबावपंजाब में टल सकते हैं चुनाव! चन्नी सरकार की मांग पर चुनाव आयोग की अहम बैठक आजभारत में एक दिन में कोरोना के 2.71 लाख नए मामले आए सामने, 314 की मौतPandit Birju Maharaj: कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांसVivah Muhurat 2022: इस साल मई-जून महीने में होगी शादियों की भरमार, जानिए 2022 के विवाह के शुभ मुहूर्तबिल्डर ने पांच दोस्तों से कराया पत्नी का गैंगरेप, हैवानियत ऐसी कि बिना कपड़ों के रखता था बंधक बनाकरसीएम की बड़ी घोषणा, पंचों-सरपंचों को फिर मिले ये अधिकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.