Bihar Assembly Election 2020 : तेजस्वी के मनाने पर भी नहीं माने रघुवंश, अब जेडीयू ने दिया खुला ऑफर

  • Raghuvansh Prasad Singh आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद को फिर से संभालने की बात से किया इनकार।
  • Lalu Yadav के करीबी रघुवंश प्रसाद सिंह की गिनती RJD में सवर्णों के सबसे बड़े चेहरे के रूप में होती है।

By: Dhirendra

Updated: 24 Aug 2020, 09:22 PM IST

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 ( Bihar Assembly Election 2020 ) की तैयारियों के बीच नाराज नेताओं को मनाने और पाला बदलने का सिलसिला जारी है। इस बीच आरजेडी ( RJD ) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके कद्दावर नेता व लालू यादव के करीबी रघुवंश प्रसाद सिंह ( Raghuvansh Prasad Singh ) को मनाने में तेजस्वी यादव ( Tejashwi ) विफल रहे। वहीं जेडीयू ( JDU ) ने रघुवंश प्रसाद सिंह को पार्टी में शामिल होने का खुला ऑफर दिया है।

आरजेडी से नाराज चल रहे रघुवंश प्रसाद सिंह को बिहार सरकार के मंत्री जय कुमार सिंह ने खुला ऑफर देते हुए कहा कि अगर रघुवंश बाबू हमारे साथ आते हैं तो उनका पार्टी में स्वागत है। जय कुमार सिंह ने कहा कि रघुवंश सिंह जैसे समाजवादी नेता की इज्जत आरजेडी में नहीं है। उनके मिजाज और मूड के नेता के लिए जनता दल यूनाइटेड ( JDU ) जैसी पार्टी ही फिट है।

Bihar : इस्तीफे और चुनाव लड़ने की बात पर सामने आए DGP Gupteshwar Pandey, वायरल वीडियो पर दिया ये जवाब

नीतीश कुमार भी करते हैं रघुवंश बाबू का सम्मान

नीतीश ( CM Nitish Kumar ) के मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि अगर रघुवंश सिंह मूड बनाते हैं तो जेडीयू में उनका रास्ता खुल सकता है क्योंकि जेडीयू के हमारे नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी रघुवंश प्रसाद सिंह जैसे नेताओं की सम्मान करते हैं।

तेजस्वी यादव ने की थी एम्स में मुलाकात

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रघुवंश प्रसाद सिंह से तेजस्वी यादव ने एम्स में मुलाकात की। इसके बाद भी वह नहीं माने। इस बाबत रघुवंश प्रसाद सिंह ने बातचीत में कहा कि हमने एक बार जो फैसला कर लिया तो हम पीछे नहीं हट सकते हैं। हमने न तो कभी अपने सिद्धांतों से समझौता किया है और न ही आगे करेंगे।

CWC Meeting LIVE : घमासान के बीच अहमद पटेल ने राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा

रघुवंश प्रसाद सिंह ने बताया कि तेजस्वी यादव ने एम्स में आकर मेरे स्वास्थ्य का हालचाल जाना जो मुझे अच्छा लगा लेकिन हमने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से पहले ही इस्तीफा दे दिया है, और उसे हरगिज़ वापस नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि अस्पताल से बाहर निकलने के बाद ही कोई फैसला लूंगा।

बता दें कि रघुवंश प्रसाद सिंह पार्टी हाईकमान से बहुत नाराज हैं और उन्होंने इसी क्रम में पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

bihar assembly election
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned