बिहार के दूसरे चरण के चुनाव में 502 उम्मीदवारों पर हैं आपराधिक मामले दर्ज

  • एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार दूसरे चरण में 502 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज
  • 502 उम्मीदवारों में से 389 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज, 3 नवंबर को होगा मतदान

By: Saurabh Sharma

Published: 28 Oct 2020, 10:00 AM IST

नई दिल्ली। जैसा कि राजनीतिक दल बिहार चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए कमर कसने लगे हैं, ऐसे में एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स की एक रिपोर्ट ने खुलासा किया है कि बिहार चुनाव के दूसरे चरण के लिए राष्ट्रीय जनता दल ने सबसे अधिक दागी उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। रिपोर्ट के अनुसार, दूसरे चरण में चुनावी मैदान में उतरे 1,463 उम्मीदवारों में से 502 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। इन 502 उम्मीदवारों में से 389 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

राजद ने दूसरे चरण में 56 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है, जिनमें से 36 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि 28 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि दागी उम्मीदवारों में दूसरे नंबर पर भाजपा के उम्मीदवार हैं। पार्टी के 46 में से 29 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले और 20 पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

रिपोर्ट में आगे खुलासा हुआ है कि जद-यू के टिकट पर चुनाव लड़ रहे 43 उम्मीदवारों में से 20 दागी हैं और उनमें से 15 गंभीर आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं, जबकि कांग्रेस के 24 उम्मीदवारों में से 14 आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं, जबकि उनमें से 10 गंभीर आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं और लोजपा के 52 उम्मीदवारों में से 24 गंभीर आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं। वहीं एडीआर की रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि 1,463 में से 495 उम्मीदवारों की संपत्ति लाखों में है। राज्य में दूसरे चरण का चुनाव 3 नवंबर को होने वाला है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned