आनंद शर्मा ने पार्टी लाइन से हटकर की PM Modi की तारीफ, दिग्गज नेता ही बढ़ा रहे कांग्रेस की मुश्किल

  • Congress के दिग्गज ही बनते जा रहे पार्टी के लिए चिंता का कारण
  • Anand Sharma ने PM Modi के वैक्सीन सेंटरों के दौरे की कर पार्टी लाइन से हटकर की तारीफ
  • इससे पहले भी कई दिग्गज नेता दिखा चुके हैं बागी तेवर

By: धीरज शर्मा

Updated: 30 Nov 2020, 11:25 AM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल ( Coroanvirus ) के बीच कांग्रेस ( Congress ) के लिए मुश्किल का दौर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। पार्टी के अंदर उठे बगावती तेवर रुक-रुक कर पार्टी के लिए बड़ी मुश्किल बनते जा रहे हैं। इसी कड़ी में अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा का बयान भी पार्टी और सोनिया-राहुल की चिंताएं बढ़ा रहा है।

दरअसल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ( Anand Sharma )ने पार्टी लाइन से हटकर पीएम मोदी के वैक्सान सेंटरों के दौरे की तारीफ कर डाली है। खास बात यह है कि आनंद शर्मा ने ये बयान उस वक्त दिया है पार्टी की ओर से पीएम मोदी के इस दौरे को सिर्फ फोटोसेशन करार दिया गया।

ये पहला मौका नहीं है इससे पहले भी कांग्रेस कि दिग्गज पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी करते आ रहे हैं, जुलाई से लेकर नवंबर तक कई बार पार्टी में बगावती तेवरों ने संघर्ष से गुजर रही कांग्रेस के लिए बड़ी परेशानी खड़ी कर दी है। आईए जानते हैं क्या है पीछे की बड़ी वजह ।

पांच सीमाओं को दिल्ली की घेराबंदी की तैयारी में किसान, बीते 24 घंटों में आंदोलन से जुड़ी अहम बातें

कोरोना काल के बीच उठा कांग्रेस के बीच घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। एक बार फिर कांग्रेस के दिग्गज ने ही पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने पीएम मोदी के वैक्सीन सेंटरों के दौरे की जमकर तारीफ की है।

ये बोले आनंद शर्मा
आनंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सीरम इंस्टीट्यूट, भारत बायोटेक और जाइडस कैडिला की यात्रा से भारतीय वैज्ञानिकों और कोरोना के खिलाफ वैक्सीन का उत्पादन करने के लिए उनके काम को पहचान और मान्यता मिली है। अग्रिम पंक्ति के कोरोना योद्धा इससे और प्रोत्साहित होंगे।

ये थी पार्टी लाइन
आनंद शर्मा ने जहां पीएम मोदी की तारीफ कर डाली है, वहीं कांग्रेस का इस मामले पर आधिकारिक रुख कुछ ओर ही था। पार्टी प्रवक्त रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इसे पीएम मोदी के फोटे सेशन वाला इवेंट करार दिया था।
सुरजेवाला ने ट्वीट कर लिखा था- मोदी जी कम्पनियों के दफ़्तर जा फ़ोटो खिंचा रहे हैं और लाखों किसान दिल्ली के सड़कों पर कराह रहे हैं। काश! PM जहाज़ की बजाय ज़मीन पर किसान से बात करते। कोरोना वैक्सीन साइंटिस्ट और शौधकर्ता ढूंढेंगे, व...देश का पेट किसान पालेंगे, और...मोदी जी तथा भाजपाई टेलिविजन सम्भालेंगे !

आरसीईपी के मुद्दे पर जुदा राय
आनंद शर्मा की राय कोरोना वैक्सीन मामले पर ही नहीं बल्कि अन्य मुद्दों पर पार्टी से जुदा रही है। इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री क्षेत्रीय समग्र आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी) के मामले में भी अपनी जुदा राय रख चुके हैं। कांग्रेस जहां आरसीईपी में भारत के शामिल होने का विरोध कर रही है, वहीं आनंद शर्मा ने इसमें भारत के शामिल ना होने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। यानी शर्मा के बयान के मुताबिक वे चाहते हैं कि भारत इसमें हिस्सा ले।

इन दिग्गजों ने भी बढ़ाई मुश्किल
आनंद शर्मा अकेले नहीं है बल्कि अन्य पार्टी के वरिष्ठ नेता पिछले कुछ समय में अपने बयान और रुख से कांग्रेस के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी कर चुके हैं। इनमें कपिल सिब्बल, गुलाम नबी आजाद समेत 23 नेताओं की ओर से सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी वाले नेता प्रमुख रूप से शामिल हैं।

जुलाई से शुरू हुआ घमासान
जुलाई में सोनिया गांधी सर गंगाराम अस्पताल में भर्ती हुई थीं। फिर अगस्त से ही सोनिया गांधी डॉक्टरों की निगरानी में हैं और सितंबर में चेक अप के लिए विदेश जाना पड़ा था जिसकी वजह से सोनिया के साथ साथ राहुल गांधी भी संसद सत्र में शामिल नहीं हो पाये थे।

इस बीच पांच पूर्व सीएम, सांसद सीडब्ल्यूसी के सदस्यों समेत 23 नेताओं ने सोनिया को चिट्ठी लिखी। चिट्ठी में इस बात का जिक्र था कि बीजेपी लगातार आगे बढ़ रही है, लेकिन कांग्रेस का आधार कमजोर हो रहा है और युवाओं का आत्मविश्वास टूट रहा है।

साल का अंतिम चंद्र ग्रहण 4 घंटे 18 मिनट का होगा, जानिए वो 8 बातें जो आपके लिए हैं जरूरी

बिहार चुनाव के बाद चिंता
बिहार चुनाव और देश भर में हुए उपचुनावों में कांग्रेस की हार के बाद कपिल सिब्बल ने पार्टी की हालत पर चिंता जताने के साथ साथ नेतृत्व पर सवाल उठाए। वहीं आर्थिक मामलों मसलों को लेकर कांग्रेस के बचाव में मोर्चे पर तैनात रहने वाले पी. चिदंबरम ने भी पार्टी के चुनावी प्रदर्शन पर तंज भरी टिप्पणी की थी।

coronavirus Congress
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned