कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले होटल और रिसॉर्ट में विधायक हुए 'नजरबंद'

कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले होटल और रिसॉर्ट में विधायक हुए 'नजरबंद'

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Jul, 15 2019 07:40:47 PM (IST) | Updated: Jul, 15 2019 10:16:09 PM (IST) राजनीति

  • Karnataka Political Crisis में अब Floor Test की बारी
  • होटल और रिसॉर्ट से सरकार बचाने की कोशिश
  • Rebel MLA समेत सभी विधायकों को पार्टी ने किया नजरबंद

नई दिल्ली। कर्नाटक का सियासी संकट ( Karnataka political crisis ) निपटाने के लिए BJP , Congress और JDS इन दिनों होटल और रिसॉर्ट पर आश्रित हैं। कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार द्वारा गुरुवार को बहुमत पेश करने से पहले होटल और रिसॉर्ट की सुरक्षा पहले से कई गुना बढ़ा दी है। राज्य के लगभग विधायक आलीशान रिजॉर्ट और फाइव स्‍टार होटलों में शाही सुविधाओं का आनंद ले रहे हैं।

टॉप फ्लोर पर रखे गए विधायक

कांग्रेस ने मुंबई के रेनैस्संस होटल में ठहरे अपने बागी विधायकों की सुरक्षा तीन स्तर में कर रही है। पार्टी ने सबसे पहले विधायकों को एक ही फ्लोर पर शिफ्ट कर दिया। इस दौरान विधायकों सबसे ऊपरी मंजिल पर रखा गया। विधायकों को इधर-उधर न जाने को कहा गया है।

संसद में हिंदी बोलकर चर्चा का स्तर गिरा रहे पीएम मोदी: वायको

जिस फ्लोर पर विधायक, वहां किसी को एंट्री नहीं

जिस फ्लोर पर बागी विधायक ठहरे हैं वहां किसी को भी जाने की इजाजत नहीं है। होटल स्टाफ की लिस्ट सुरक्षा में लगे लोगों के पास है। लिस्ट में जिनका नाम है, कॉरिडोर में सिर्फ उन्हीं की एंट्री है। साथ थी होटल के कई फ्लोर पर मुंबई पुलिस और निजी सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।

Karnataka Crisis Congress

सादे कपड़े में पुलिसकर्मी

मामले की गंभीरता इस बात से समझिए कि पुलिस के जवान सादे कपड़े में भी तैनात किए गए हैं। विधायकों को बाहर के किसी भी शख्स से मिलने की इजाजत नहीं है।

बताया जा रहा है कि विधायकों के मोबाइल फोन पर जमा कर लिए गए हैं ताकि किसी से संपर्क ना हो सके। बागी विधायकों के मूवमेंट पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।

बीजेपी ने भी विधायकों को किया अंडरग्राउंड

वहीं बीजेपी ने अपने विधायकों को बेंगलुरु को दो आलीशान होटलों में रखा गया है। पिछले दिनों ऐसी तस्वीरें भी आई थी जहां बीजेपी एमएलए होटल की लॉन में क्रिकेट खेलते दिखे थे। बीजेपी ने भी विधायकों के होटल के बाहर जाने, मोबाइल के इस्तेमाल पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है।

दोनों होटलों की सुरक्षा ऐसी है कि बीजेपी के भी नेता अंदर नहीं जा सकते। होटल के अंदर सिर्फ उन्हीं को जाने की इजाजत है, जिन्हें हाईकमान ने नियुक्त किया है।

सिद्धू को अनिल विज ने बताया BJP का रिजेक्टेड, AAP ने दिया साथ आने का न्यौता

18 जुलाई को अग्निपरीक्षा

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर केआर रमेश कुमार ने बहुमत साबित करने के समय का ऐलान कर दिया है। सोमवार को उन्होंने कहा कि जनता दल-(सेकुलर) और कांग्रेस पार्टी के गठबंधन की सरकार को गुरुवार यानी 18 जुलाई को सुबह 11 बजे बहुमत साबित करना होगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned