महाराष्ट्र में सियासी संकट: NCP नेता नवाब मलिक का बड़ा बयान, बीजेपी के कई विधायक हमारे संपर्क में

  • आज दिल्ली में एनसपी कांग्रेस की बैठक
    कांग्रेस और एनसपी नेता अंतिम फैसला लेंगे
  • महाराष्ट्र में सरकार गठन पर सस्पेंस बरकरार

Prashant Kumar Jha

November, 2111:05 AM

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर रस्साकशी का दौर जारी है। कल सोनिया गांधी और शरद पवार की मुलाकात के बाद भी सरकार बनाने को लेकर रास्ता साफ नहीं हो पाया है। इसी कड़ी में आज दिल्ली में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के बीच बैठक होने जा रही है। कांग्रेस और एनसीपी नेता सरकार बनाने को लेकर अंतिम फैसला लेंगे।

पुणे और सतारा के विधायक संपर्क में

इधर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने एक बयान देकर सियासी गलियारों का माहौल गर्म कर दिया है। नवाब मलिक ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा के कई विधायक हमारे संपर्क में है। पुणे और सतारा के विधायक लगातार NCP से संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र में जल्द ही नई सरकार बनेगी।

ये भी पढ़ें: सोनिया गांधी से मुलाकात से पहले शरद पवार बोले, बीजेपी और शिवसेना साथ चुनाव लड़ी है वह अपना रास्ता चुनें

शिवसेना, NCP और कांग्रेस में बनी थी सहमति

दरअसल पिछले दिनों खबर थी कि महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम (CMP) पर सहमति बन गई। जिसमें तय हुआ कि महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के तहत नवाब मलिक ने बताया था कि मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा। शिवसेना को अपमानित किया गया है ऐसे में हमारी जिम्मेदारी बनती है कि उनका स्वाभिमान और सम्मान बनाए रखें।

पवार ने दिए अलग संकेत

गौरतलब है कि सोमवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष अध्यक्ष सोनिया गांधी और एनसीपी चीफ शरद पवार की मुलाकात हुई। मुलाकात के बाद शरद पवार ने कहा कि अभी कुछ फाइनल नहीं हुआ है। सोनिया गांधी से सरकार बनाने पर कोई चर्चा नहीं हुई है। शरद पवार ने कहा कि दोनों पार्टियों के नेताओं से राय ली जाएगी। उसके बाद आगे कोई चर्चा होगी।

पवार के बयान से सियासी गलियारों में सनसनी

इधर सोनिया गांधी से मिलने से पहले शरद पवार ने सरकार गठन पर एक बयान दिया। उसमें उन्होंने कहा था कि शिवसेना और बीजेपी ने साथ चुनाव लड़ा है। अब दोनों दलों के नेताओं को इस मुद्दे पर चर्चा करने की जरूरत है। कांग्रेस और एनसीपी खुद बातचीत कर रही है।

Show More
prashant jha
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned