Cabinet Expansion से पहले पीएम आवास पर अहम बैठक आज, शाह और राजनाथ समेत शामिल होंगे कई बड़े मंत्री

दो दिन में हो सकता है केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार, मंगलवार शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने आवास पर करेंगे हाई लेवल मीटिंग

By: धीरज शर्मा

Published: 06 Jul 2021, 08:06 AM IST

नई दिल्ली। कैबिनेट विस्तार ( Cabinet Expansion ) से पहले पीएम मोदी ( PM Modi ) के घर पर मंगलवार शाम को बड़ी बैठक होने वाली है। इस बैठक में पार्टी के कई दिग्गज नेता हिस्सा लेंगे। हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार बैठकों के जरिए तमाम मंत्रियों से मुलाकात की और उनके कामकाज की समीक्षा भी की है।

अब केंद्र सरकार में बड़े बदलाव की तमाम अटकलों पर जल्द विराम लग सकता है। मोदी कैबिनेट का इसी हफ्ते विस्तार होने की संभावना है। विस्तार और बदलाव को लेकर पीएम मोदी ने गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ शनिवार और रविवार को करीब 5-5 घंटे तक गुप्त बैठक भी की है। मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार 7 या 8 जुलाई को हो सकता है।

यह भी पढ़ेंः बुधवार को मोदी कैबिनेट की बैठक, DA/DR पर हो सकती है बड़ी घोषणा

आज बैठक में शामिल होंगे ये नेता
मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर होने वाली बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण, धर्मेंद्र प्रधान, पीयूष गोयल, प्रह्लाद जोशी और नरेंद्र सिंह तोमर जैसे दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे। माना जा रहा है कि इस दौरान कैबिनेट विस्तार और बदलाव पर अंतिम मुहर लग सकती है।

दो दिन में हो सकता है कैबिनेट विस्तार
अगले एक से दो दिन में मोदी कैबिनेट का विस्तार हो सकता है। सूत्रों की मानें तो इस दौरान 20 से 22 मंत्री शपथ ले सकते हैं। दरअसल केंद्रीय मंत्रिमंडल में वर्तमान में 53 मंत्री शामिल हैं और विस्तार के बाद इनकी संख्या 81 हो सकती हैं।

सहयोगी दलों को भी मौका
इस बार मोदी कैबिनेट में एनडीए के सहयोगी दलों को ज्यादा तरजीह दिए जाने के संकेत हैं। आगामी चुनावों को ध्यान में रखते हुए बीजेपी गठबंधन दलों को भी इस बार मोदी कैबिनेट का हिस्सा बना सकती है। इनमें जेडीयू एलजेपी के अलावा अपना दल कोटे से नेता शपथ ले सकते हैं। इसके साथ ही मोदी सरकार के कई मंत्रियों के विभाग भी बदले जा सकते हैं।

मोदी सरकार-2 के गठन को दो साल से अधिक समय बाद होने जा रहे मंत्रिमंडल विस्तार पर पांच राज्यों में चुनाव को देखते हुए वहां के जातिगत और राजनीतिक समीकरण की छाप भी नजर आ सकती है।

ऐसे में उत्तर प्रदेश से मोदी मंत्रिमंडल में तीन मंत्री शामिल किए जा सकते हैं। इनमें अपना दल से अनुप्रिया पटेल को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है। वहीं बिहार से दो से तीन, मध्य प्रदेश से एक से दो मंत्रियों को मौका मिल सकता है।

इसके अलावा महाराष्ट्र से भी दो मंत्रियों के शामिल होने की चर्चा है। जबकि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख से कैबिनेट में एक-एक मंत्री को मौका दिया जा सकता है।

राजस्थान से एक, असम से एक या दो मंत्री शामिल हो सकते हैं। पश्चिम बंगाल से मोदी कैबिनेट में दो नेताओं को जगह मिलने की संभावना है।

6 जुलाई को भी पीएम की पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण और अन्य वरिष्ठ मंत्रियों के साथ बैठक होनी है। माना जा रहा है कि इस बैठक में मंत्रियों के नाम पर फाइनल मुहर लग सकती है।

यह भी पढ़ेंः फडणवीस के बयान से महाराष्ट्र में बढ़ी सियासी हलचल, शिवेसना को लेकर कही बड़ी बात

इन्हें मिल सकती है कैबिनेट में मौका

कैबिनेट में शामिल होने वाले नेताओं में असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम सबसे आगे चल रहे हैं।

सूत्रों की मानें तो बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, वरुण गांधी, प्रवीण निषाद, राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और संतोष कुशवाहा के साथ ही अपना दल की अनुप्रिया पटेल को भी मंत्रिमंडल में जगह दी जा सकती है। एलजेपी नेता पशुपति पारस भी इस सूची का हिस्सा हो सकते हैं।

PM Narendra Modi Amit Shah
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned