PUBG और इकोनॉमी के बहाने टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, पूछा ये सवाल

  • टीएमसी सांसद नुसरत जहां का मोदी सरकार पर तंज
  • PUBG और देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था के बहाने पूछा सवाल
  • पहले भी चीनी ऐप के बैन किए जाने पर पूछ चुकी हैं कई सवाल

By: धीरज शर्मा

Published: 03 Sep 2020, 06:03 PM IST

नई दिल्ली। चीन के साथ लगातार चल रहे तनाव के बीच केंद्र की मोदी सरकार ने PUBG समेत 118 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। इसके पीछे की वजह राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताया गया है। दूसरी तरफ देश की इकोनॉमी लगातार बुरी होती जा रही है। लिहाजा राजनीतिक दलों का मोदी सरकार पर हमला भी तेज हो गया है। इसी कड़ी में तृणमूल कांग्रेस की सांसद नूसरत जहां ने मोदी सरकार पर पबजी गेम और इकोनॉमी के बहाने निशाना साधा।

टीएमसी सांसद ने निशाना साधते हुए पीएम मोदी से पूछा कि अब ना तो पबजी का रीवाइवल (पुनर्जीवन) होगा और ना ही अर्थव्यवस्था का। ऐसे में हम क्या करें?

पीएम मोदी अब तक कर चुके हैं 103 करोड़ रुपए दान, जानें किन कामों में खर्च होती है ये राशि

मोदी सरकार पर टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने ट्वीट के जरिए तंज कसा है। सांसद ने ट्वीट करते हुए लिखा है- अब न पबजी में रीवाईवल होगा न ईकोनोमी में, पीएम मोदी जी हम अब क्या करेंगे।

ये पहली बार नहीं जब नुसरत जहां ने पीएम मोदी पर चाइनीज ऐप को लेकर निशाना साधा हो। इससे पहले जब टिक-टॉक समेत 59 चीनी ऐप पर मोदी सरकार की ओर से बैन लगाया गया था, तब भी टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने उन पर निशाना साधा था।

रोजगार को लेकर साधा था निशाना
उस दौरान भी नुसरत जहां ने कई सवाल किए थे। उन्होंने कहा था कि टिकटॉक एक मनोरंजन ऐप है लेकिन मुझे लगता है कि यह आवेश में लिया गया फैसला है।

उन्होंने तब पूछा था कि आगे की रणनीतिक योजना क्या है? उन लोगों का क्या जो बेरोजगार होंगे? लोग नोटबंदी की तरह प्रताड़ित होंगे, मुझे बैन से कोई समस्या नहीं है क्योंकि यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए है लेकिन मेरे इन सवालों का जवाब कौन देगा?

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मोदी सरकार के चीनी ऐप को बैन करने को लेकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि सिर्फ बैन करना काफी नहीं है बल्कि चीन को मुंह तोड़ जवाब देना चाहिए।

विराट कोहली को लेकर शोएब अख्तर ने कह दी ऐसी बात, भड़के फैंस तो मिला यूं जवाब

2018 में आया था पबजी
आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने चीन से बढ़े तनाव के बीच PUBG समेत 118 मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। चीनी ऐप्स भारत में करोड़ों रुपये की कमाई करते हैं। आपको बता दें कि देश में पबजी वर्ष 2018 में लॉन्च हुआ था, लेकिन बेहद कम वक्त में यह सबसे लोकप्रिय ऑनलाइन गेम बन गया।

भारत में जुलाई 2019 तक इसने करीब 2.8 करोड़ डॉलर की आमदनी की थी, ये ऐप युवाओं में काफी लोकप्रिय है। वैसे सरकार के इस एक्शन के बाद राजनेताओं ने इस मसले पर बयानबाजी भी शुरू कर दी है।

pm modi
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned