मोदी सरकार की दो मंत्री, दो तस्वीरें और दुनियाभर में हुई भारत की वाहवाही

नारी सशक्तिकरण पर बहस और महिला सुरक्षा के मुद्दे पर भारत के घेराव के बीच दो मंत्रियों की ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिन पर पूरे देश को गर्व होगा।

By:

Published: 25 Apr 2018, 02:47 PM IST

नई दिल्ली। नारी सशक्तिकरण पर वैश्विक बहस और महिला सुरक्षा के मुद्दे पर भारत के घेराव के बीच चीन से मोदी सरकार की दो मंत्रियों की ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिन्हें देखकर दुनियाभर में भारत की वाहवाही हो रही है। ये दो तस्वीरें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की हैं। दोनों की तस्वीरें अलग-अलग बैठकों में शिरकत के दौरान सामने आई है। आपको बता दें कि इसी हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी चीन जाने वाले हैं।

शंघाई सहयोग संगठन से आईं दोनों तस्वीरें
दोनों मंत्रियों की तस्वीरें शंघाई सहयोग संगठन की हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यहां विदेश मंत्रियों की बैठक में शिरकत की। वहीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने एससीओ के सदस्य देशों से आए समकक्ष सदस्यों के साथ बैठक में हिस्सा लिया था।

...इसलिए दुनिया ने कहा- शाबास इंडिया
इन तस्वीरों की दुनियाभर में तारीफ इसलिए हो रही है क्योंकि इन दोनों ही तस्वीरों भारत का प्रतिनिधित्व दोनों महिला मंत्रियों ने किया। दोनों तस्वीरों में इनके अलावा कोई भी महिला सदस्य नहीं है। जब दुनियाभर में महिलाओं की सहभागिता और सशक्तिकरण पर बहस चल रही है। ऐसे में भारत की तरफ से महिलाओं का शिरकत करना अपने आप में एक महत्वपूर्ण संदेश है।

चीन के रक्षामंत्री फेंग से मिलीं निर्मला सीतारमण, इन महत्वपूर्ण मुद्दों पर की बातचीत

केंद्रीय मंत्री बोले- यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते...
केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इन तस्वीरों पर खुशी जाहिर करते हुए ट्वीट किया है। इस ट्वीट में उन्होंने दोनों फोटो शेयर करते हुए लिखा है, 'यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता:।'

भारत-चीन संबंधः सुषमा की बातचीत के बाद कैलाश मानसरोवर यात्रा पर बड़ा फैसला

 

Sushma SwarajNirmala Sitharaman

जानिए क्या है शंघाई सहयोग संगठन
एससीओ की स्थापना 26 अप्रैल 1996 को 'शंघाई फाइव' के रूप में हुई थी। 15 जून 2001 को इसे मौजूदा नाम दिया गया था। इस संगठन के आठ सदस्य देश हैं, जबकि दो ऑब्जर्वर हैं। इन सदस्यों में चीन, भारत, कजाख्स्तान, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान, और उज्बेकिस्तान शामिल हैं। भारत और पाकिस्तान ने 9 जून 2017 को ही इसकी सदस्यता ग्रहण की थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned