भामाशाह बीमा योजना में अब न्यूरोलॉजी पीडियाट्रिक का भी इलाज

भामाशाह बीमा योजना में अब न्यूरोलॉजी पीडियाट्रिक का भी इलाज

Rakesh kumar Verma | Publish: Dec, 08 2017 08:47:28 PM (IST) Pratapgarh, Rajasthan, India

-इंश्योरेंस कम्पनी से हुआ एमओयूए 311 नए पैकेज किए शामिल

प्रतापगढ़.
न्यूरोलॉजी, पीडियाट्रिक सर्जरी व साइट्रिक मरीजों को भी अब भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में निशुल्क उपचार किया जाएगा। इन रोगियो के उपचार के लिए भी 30 हजार से तीन लाख रुपए तक प्रतिवर्ष उपचार करवा सकेंगे। इसके अलावा कैंसर,, गैस्ट्रोलॉजी संबंधी बीमारी के उपचार के कुल 311 नए पैकेज बढ़ा दिए गए हैं। आगामी दो वर्ष के लिए योजना का नया अनुबंध भी हो चुका है। मुख्य चिकित्सा एवं अधिकारी डॉ ओ पी बैरवा ने बताया कि भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग एवं न्यू इण्डिया एश्योरेंस कम्पनी के बीच आगामी दो वर्षों के लिए अनुबंध किया गया है। इसके साथ-साथ 311 नए हैल्थ पैकेज भी शामिल किए गए हैं। गत बुधवार को जयपुर के स्वास्थ्य भवन में प्रमुख शासन सचिव वीनू गुप्ता की उपस्थिति में स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवीन जैन एवं न्यू इण्डिया एश्योरेंस कम्पनी के क्षेत्रीय प्रबंधक संजय उप्पल ने आगामी दो वर्षों के लिए अनुबंध एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इस एमओयू के अनुसार प्रति परिवार प्रति वर्ष 126 3 रुपए की राशि के प्रीमियम का भुगतान किया जाएगा।
13 दिसंबर को दो वर्ष हो रहे पूरे
प्रदेश में इस समय लगभग एक करोड़ परिवार बीएसबीवाई से लाभान्वित हो रहे हैं। योजना 13 दिसम्बर 2015 से संचालित योजना अपने दो वर्ष पूर्ण करने वाली है। योजना के माध्यम से लगभग 974 करोड़ से अधिक रुपए की राशि के 17 लाख 73 हजार क्लेम एनलिस्ट कर 16 लाख मरीजों को लाभान्वित किया जा चुका है। प्रदेश के लगभग एक करोड़ परिवारों को इंडोर उपचार के दौरान 30 हजार से 3 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान कर कैशलेस उपचार की सुविधा उपलब्ध 501 राजकीय चिकित्सा संस्थानों एवं सूचीबद्ध 778 निजी चिकित्सालयों के माध्यम से प्रदान की जा रही है।
प्रतापगढ़ में आठ चिकित्सालय को संबद्धता
योजना के तहत प्रतापगढ़ जिले के आठ चिकित्सालयों को संबंद्धता प्रदान की गई है। इसमें सभी सरकारी क्षेत्र के चिकित्सालय है। हालांकि इस योजना में निजी चिकित्सालयों को भी संबद्धता प्रदान की जाती है, लेकिन जिले में एक भी निजी चिकित्सालय इस योजना में शामिल नहीं है। जो चिकित्सालय सूचीबद्ध किए गए है, उनमें जिला चिकित्सालय, सीएचसी बारावरदा, छोटीसादड़ी, थड़ा, अरनोद, पीपलखूंट, मुंगाणा, धरियावद शामिल है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned