विक्षिप्त युवक ने तोड़ी बजरंगबली की मूर्ति, कहा सपने में अल्लाह ने कहा था इसलिये तोड़ दी, लोगों ने किया ये हाल

विक्षिप्त युवक ने तोड़ी बजरंगबली की मूर्ति, कहा सपने में अल्लाह ने कहा था इसलिये तोड़ दी, लोगों ने किया ये हाल
मूर्ती तोड़ी

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Jan, 15 2019 02:44:49 PM (IST) | Updated: Jan, 15 2019 02:44:50 PM (IST) Allahabad, Allahabad, Uttar Pradesh, India

प्रतापगढ़ के पट्टी में हनुमान मंदिर का ताला तोड़कर बजरंगबली की मूर्ति तोड़ी, लोगों ने पकड़कर जमकर पीटा, पुलिस ने भेजा जेल।

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में समुदाय विशेष के युवक ने हनुमान मंदिर का ताला तोड़कर मंदिर में रखी मूर्ती खंडित कर दी और बाहर निकलकर नमाज अदा करने लगा, फिर उठकर धार्मिक नारे भी लगाए, जिसके बाद लोगों ने उसे पकड़कर जमकर पिटायी की और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और मंदिर में नई प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारी शुरू कर दी। पूछताछ में पता चला है कि युवक विक्षिप्त किस्म का है। हालांकि लोगों ने पुलिस से मांग की है कि आरोपी युवक के के साथ दो और लोग भी थे, जिन्हें जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाय।

 

बताया गया है कि मंगलवार की सुबह प्रतापगढ़ के पट्टी कोतवाली अन्तर्गत उडईयाडीह बाजार स्थित हनुमान मंदिर में एक समुदाय विशेष के युवक ने ताला तोड़कर उसमें रखी बजरंगबली की मूर्ति को खंडित करके बाहर फेक दिया। बाहर निकलकर उसने नमाज अदा की और लोगों के मुताबिक धार्मिक नारे लगाने लगा। आसपास के लोगों ने जब उसे ऐसा करते देखा तो पकड़ लिया और जमकर उसकी पिटायी कर दी। लोगों ने जब उससे पूछा कि उसने ऐसा क्यों किया तो उसने कहा कि उसे सपना आया था और ऐसा करने के लिये उसे अल्लाह ने कहा था। हालांकि वहां मौजूद भीड़ उसे लगातार समझाती रही कि अल्लाह और भगवान एक ही है पर वह अपनी ही बात पर अड़ा रहा।

 

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गयी और युवक को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने पूछताछ की तो उसने वही बताया जो स्थानीय लोगों को बताया। स्थानीय लोगों का कहना था कि आरोपी के साथ दो लोग और थे, जिनकी गिरफ्तारी के लिये पुलिस से मांग की गयी है। पुलिस ने युवक पर मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया। एसपी एस आनंद ने मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये हैं।

By Sunil Somvanshi

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned