रेलवे स्टेशन में चोरी का मोबाइल खपाने युवक खोज रहा था ग्राहक, इतने में आ पहुंची जीआरपी, पकड़ाया

रेलवे स्टेशन में चोरी का मोबाइल खपाने युवक खोज रहा था ग्राहक, इतने में आ पहुंची जीआरपी, पकड़ाया

Shiv Singh | Publish: Sep, 08 2018 06:42:50 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि उक्त मोबाइल को बिलासपुर के जबड़ापारा निवासी यशवंत उर्फ राजा ध्रुव ने जांजगीर, सक्ती व खरसिया क्षेत्र से पार किया है।

रायगढ़. ट्रेन के अंदर व बाहर चोरी के चार महंगे मोबाइल को खपाने के लिए एक युवक, बिलासपुर से रायगढ़ रेलवे स्टेशन पर घूम रहा था। मुखबिर की सूचना पर जीआरपी ने उक्त आरोपी की पहचान कर उसे घेराबंदी कर पकड़ा। जिसके पास से चोरी के चार मोबाइल को जब्त किया गया है। जिसके बाद आरोपी के खिलाफ जुर्म दर्ज कर जेल दाखिल कर दिया गया है।

रायगढ़ जीआरपी ने मोबाइल चोरी के एक मामले में बड़ी कार्रवाई की है। मिली जानकारी के अनुसार जीआरपी को मुखबिर से खबर मिली कि रेलवे स्टेशन पर एक युवक, चोरी की मोबाइल को औने-पौने भाव बेचने के लिए ग्राहक खोज रहा है। इस बीच वो कई स्टॉल संचालकों से भी संपर्क कर रहा था। जिसकी भनक लगते ही जीआरपी ने उक्त संदेही की पहचान कर उसे थाने लाकर पूछताछ की। वहीं तलाशी के दौरान उसके पास से चार महंगे मोबाइल मिले। जिसके बारे में आरोपी संतोषजनक जवाब नहंी दे सका।

पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि उक्त मोबाइल को बिलासपुर के जबड़ापारा निवासी यशवंत उर्फ राजा ध्रुव ने जांजगीर, सक्ती व खरसिया क्षेत्र से पार किया है। जीआरपी ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर जेल दाखिल कर दिया है।

Read More : सर्वे टीम को 39 आंगनबाड़ी केंद्रों में मिली थी गड़बड़ी, कार्रवाई सिर्फ छह पर

वहीं जन्माष्टमी की भीड़ का फायदा उठा कर सुभाष चौक स्थित एक कपड़े की दुकान में चोरी मामले में पुलिस को सफलता मिल गई है। क्राइम ब्रांच ने मुखबिर का जाल बिछा कर इस मामले में संलिप्त मौदहापारा निवासी आरोपी अरबाज खान व आमिर खान को चोरी के सामान के साथ धर दबोचा है। जबकि एक अन्य आरोपी रहमान की खोज जारी है। जिसकी खोज की जा रही है।

शहर के सुभाष चौक स्थित कपड़े दुकान में चोरी, मौदहापारा के तीन युवकों ने मिल कर की थी, जिसका खुलासा क्राइम ब्रांच ने किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दो सिंतबर की रात अज्ञात चोरों ने इस घटना को अंजाम दिया था। जिसका अपराध कोतवाली में दर्ज हुआ, वहीं पुलिस के आला अधिकारी के आदेश पर इस मामले की जांच कोतवाली के साथ क्राइम ब्रांच भी जुट गई। पर घटना के पांच दिन के अंदर ही पुलिस को सफलता मिल गई है।

Ad Block is Banned