Artical 370 : छत्तीसगढ़ की बेटी के हवाले है कश्मीर के हालात, वहां तैनात इकलौती IPS अधिकारी हैं नित्या

Artical 370 : छत्तीसगढ़ की बेटी के हवाले है कश्मीर के हालात, वहां तैनात इकलौती IPS अधिकारी हैं नित्या

Karunakant Chaubey | Publish: Aug, 13 2019 05:36:13 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

Artical 370 : एनआईटी रायपुर (NIT Raipur) से केमिकल इंजीनियरिंग करने के बाद नित्या ने चंद्रपुर में सिमेंट फैक्टी से अपने कैरिअर की शुरुआत की थी लेकिन कहते हैं ना की जिनमे कुछ बड़ा करने की जिद होती है उन्हें छोटी-मोटी सफलता रोक नहीं पाती

रायपुर. artical 370 : जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से पहले ही सुरक्षा कारणों से भारी संख्या में सभी राज्यों से सेना के जवानो की तैनाती की गयी है साथ ही पहले से भी वहां जवानो की तैनाती है। छत्तीसगढ़ के भी ढेर सारे जवान इस समय कश्मीर में तैनात हैं। वहां तैनात उन्हीं जवानो में से एक हैं आईपीएस अधिकारी पीडी नित्या। जो इस समय घाटी की सुरक्षा में मुस्तैदी से जुटी हुइ हैं। मूलत: छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले की रहने वाली 28 वर्षीय पीडी नित्या IPS 2016 बैच की अधिकारी हैं। उनके पिता दुर्ग रेलवे में थे और मां हाउस वाईफ है।

छत्तीसगढ़ के इस शहर में खुला है ऐसा रेस्टोरेंट जहाँ कूड़ा लाने पर मिलता है भर पेट स्वादिष्ट खाना

एनआईटी रायपुर (NIT Raipur) से केमिकल इंजीनियरिंग करने के बाद नित्या ने चंद्रपुर में सिमेंट फैक्टी से अपने कैरिअर की शुरुआत की थी लेकिन कहते हैं ना की जिनमे कुछ बड़ा करने की जिद होती है उन्हें छोटी-मोटी सफलता रोक नहीं पाती।नौकरी करते हुए ही नित्य में युपीएससी (UPSC) की तैयारी शुरू कर दी और 2016 में उसका चयन आईपीएस के लिए हो गया।

रेलवे ट्रैक पर दो टुकड़ों में मिली अफ्रीकन फुटबॉलर की लाश, नहीं हो सका पोस्टमार्टम

हाल ही में उनकी पोस्टिंग श्रीनगर में की गई है।जहाँ उसे राम मुंशी बाग और हरवन दाग्ची गांव के बीच निगरानी की जिम्मेदारी दी गई। करीब 40 किमी में फैला ये इलाका काफी संवेदनशीलमाना जाता है। इस इलाके में न केवल पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र डल झील है, बल्कि राज्यपाल आवास और वो इमारत भी है, जहां जम्मू कश्मीर के महत्वपूर्ण शख्सियत को कानून व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए नजरबंद किया गया है।

भूपेश बघेल ने किया ऐलान, छत्तीसगढ़ में बढ़ेगा अनुसूचित जाति का आरक्षण

 

Artical 370

चुनौतियां है पसंद

नेहरू पार्क के उप विभागीय पुलिस अधिकारी के पद पर तैनात नित्या का कहना है की ‘मैं छत्तीसगढ के दुर्ग जिले शांत जिले की रहने वाली हूं, लेकिन मुझे चुनौतियां पसंद है। मुझे आम नागरिकों की सुरक्षा के साथ ही यहाँ के बेहद महत्वपूर्ण लोगों की सुरक्षा का भी ध्यान रखने की जिम्मेदारी है। वहां की चुनातियों का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया की उन्हें सड़कों पर आए दिन स्थानीय लोगों के विरोध का भी सामना करना पड़ता है लेकिन उन्होंने घाटी के हालातों से निपटना सीख लिया है।

पढ़ने की ललक ऐसी की खुद नांव खेकर नदी पार करते हैं छात्र, विकास यहां आते-आते तोड़ देता है दम

घाटी में हैं सिर्फ दो ही शीर्ष महिला अधिकारी

नित्या की वहां तैनाती इस मायने में भी महत्वपूर्ण है घाटी में सिर्फ ही शीर्ष महिला अधिकारी तैनात है। जिसमे नित्या इकलौती महिला आईपीएस IPS अधिकारी हैं। उनके अलावा एक महिला IAS अधिकारी को भी तैनात किया गया है। जो वहां क्राइसिस मैनेजमेंट का काम देखती हैं। बाकी की सभी शीर्ष महिला अधिकारी या तो जम्मू रीजन में या फिर लद्दाख में पदस्थ हैं।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned