scriptFirst dose of vaccine got one crore people in CG amid third wave | तीसरी लहर की आशंका के बीच छत्तीसगढ़ में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज, 24 लाख को दोनों डोज | Patrika News

तीसरी लहर की आशंका के बीच छत्तीसगढ़ में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज, 24 लाख को दोनों डोज

Corona Vaccination in Chhattisgarh: तीसरी लहर की आशंका के बीच छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य महकमे से अच्छी खबर मिल रही है। दरअसल, 2.85 करोड़ आबादी वाले छत्तीसगढ़ में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग गई।

रायपुर

Updated: August 04, 2021 10:09:09 am

रायपुर. Corona Vaccination in Chhattisgarh: तीसरी लहर की आशंका के बीच छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य महकमे से अच्छी खबर मिल रही है। दरअसल, 2.85 करोड़ आबादी वाले छत्तीसगढ़ में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग गई। जबकि, करीब 24 लाख लोगों को टीके के दोनों डोज लगी है। प्रदेश में सोमवार तक 12359803 टीके लगे थे, जिसमें 9978 316 को पहला और 2381487 को दोनों डोज लगाए जा चुके थे।
coronavirus chhattisgarh
तीसरी लहार की आशंका के बीच छत्तीसगढ़ में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की पहली डोज, 24 लाख को दोनों डोज
कोविड पोर्टल के अनुसार मंगलवार रात 9.15 बजे तक 36861 को टीके लगे। प्रदेश में 16 जनवरी को हेल्थ केयर वर्कर्स से टीके की शुरुआत की गई थी। फिर, 1 फरवरी से फ्रंट लाइन वर्कर्स, 1 मार्च से 45 से 59 वर्ष के को-मार्बिटीज व 60 साल के ऊपर, 1 अप्रैल से 45 वर्ष से ऊपर के उम्र वाले तथा 1 मई से 18 वर्ष से ऊपर के उम्र वालों का टीकाकरण शुरू किया गया था।
यह भी पढ़ें: कोरोना संक्रमित मां के दूध में होता है वायरस! क्या बच्चे भी हो सकते संक्रमित, जानें एक्सपर्ट की राय

जुलाई में टीके के अभाव के कारण टीकाकरण की रफ्तार में काफी कम हो गई थी। सेंटर भी कम करने पड़े। कुछ जिलों में टीकाकरण बंद करने की भी नौबत आ गई थी। वर्तमान में कोरोना केस कम होने के बाद लोगों में टीके को लेकर उत्साह कम होने लगा है। जबकि, डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाना जरूरी है। टीके लगने के बाद भी यदि कोई संक्रमित होता है तो अस्पताल जाने की नौबत नही आएगी।
रायपुर एम्स के निदेशक डॉ. नितिन एम नागरकर ने कहा, कोरोना से बचने का एकमात्र उपाय टीकाकरण है। टीका लगने के बाद भी संक्रमण हो सकता है लेकिन गंभीर स्थिति नही होगी यानि अस्पताल जाने की जरूरत नही पड़ेगी। वैक्सीनेशन के बाद भी मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है।
यह भी पढ़ें: बड़ी राहत: 65 प्रतिशत से अधिक हर्ड इम्युनिटी, मगर अभी भी नियम से चलना होगा

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉ. सुभाष मिश्रा ने कहा, तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका जताई जा रही है लेकिन घर के बड़े-बुजुर्गों को टीका लगा जाएगा तो यह संभावना काफी कम हो जाएगी। टीका लगने के बाद मौत की संभावना काफी कम रहती है।
प्रदेश का आंकड़ों में वैक्सीनेशन (2 अगस्त तक)
कैटेगरी लक्ष्य पहला डोज प्रतिशत दोनों डोज प्रतिशत
हेल्थ वर्कर्स 339732 309315 91 प्रतिशत 245627 72 प्रतिशत
फ्रंटलाइन 293040 317154 शत-प्रतिशत 229594 78 प्रतिशत
45 वर्ष से अधिक 5866599 522886 89 प्रतिशत 1740903 30 प्रतिशत
18-44 वर्ष 13433021 4148961 31 प्रतिशत 165363 1.23 प्रतिशत
सर्वाधिक टीकाकरण वाले 5 जिले
रायपुर-1385420
रायगढ़- 1065931
राजनांदगांव- 797837
दुर्ग- 792395
बिलासपुर- 692040
(कोविन पोर्टल के अनुसार)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.