रायपुर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने ली मौजूदा हालात पर बैठक, लिए गए बड़े फैसले

- रायपुर में लॉकडाउन नही: मगर सख्ती पहले से कहीं ज्यादा

By: Ashish Gupta

Published: 03 Apr 2021, 10:09 PM IST

रायपुर. राजधानी रायपुर में कोरोना संक्रमण (Coronavirus in Raipur) के बढ़ते खतरे के मद्देनजर सरकार ने संपूर्ण लॉकडाउन (Total Lockdown) का निर्णय तो नहीं लिया, मगर कई ठोस फैसले लिए गए। जिनके जरिए वैश्विक महामारी पर नियंत्रण की कवायद होगी। 4 अप्रैल से रायपुर और बिरगांव सीमा क्षेत्र में सुबह 6 से शाम 6 बजे तक ही दुकानें खोलने की अनुमति होगी। शहरी क्षेत्र के सभी साप्ताहिक बाजार, जिम और स्वीमिंग पूल पूरी तरह से बंद रहेंगे। रेस्टोरेंट, होटल, बार, ढाबा में बैठकर खाने और पॉर्शल के लिए 8 बजे तक का समय तय कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना का नया वैरिएंट एन-440 मिला, वायरस कितना घातक वैज्ञानिकों को पता नहीं

शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने जिला के प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे और महापौर एजाज ढेबर के साथ न्यू सर्किट हाउस में कोरोना की रोकथाम के लिए राज्य शासन, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ हालात पर समीक्षा की। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने रायपुर जिला प्रशासन द्वारा कोरोना नियंत्रण के उपायों की जानकारी दी।

यह भी पढ़ें: कोरोना के बढ़ते मामलों से फिर बढ़ी मुश्किलें, शादी के लिए होटल-गार्डन की कई बुकिंग रद्द

बताया कि आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर बनाने 5 भवन अधिग्रहित कर लिए गए हैं। इनके जरिए ऑक्सीजयुक्त बेड की संख्या भी बढ़ेगी। जिले में 28 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव कुमार सिंह ने गांव एवं ग्रामीणों की रिपोर्ट रखी। गौरतलब है कि रायपुर में रोजाना 1000 से अधिक मरीज रिपोर्ट हो रहे हैं, 8500 से अधिक एक्टिव मरीज हैं और रोजाना 10 से अधिक लोगों की जान जा रही है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned