script Raipur: NIT के छात्र ने खुद को बम से उड़ाया, पहले बहन को फोन पर कहा- मैं अपनी जान...मची अफरा-तफरी | Raipur NIT student blows himself with bomb | Patrika News

Raipur: NIT के छात्र ने खुद को बम से उड़ाया, पहले बहन को फोन पर कहा- मैं अपनी जान...मची अफरा-तफरी

locationरायपुरPublished: Feb 01, 2024 01:04:41 pm

Submitted by:

Khyati Parihar

Chhattisgarh News: नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) में पढ़ने वाले इंजीनियरिंग ने मानव बम बनकर खुद को उड़ा लिया। इससे बुरी तरह घायल छात्र को एम्स में भर्ती कराया गया है। वह आईसीयू में है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। घटना को छात्र ने किन कारणों से अंजाम दिया?

raipur_suicide_news.jpg
Raipur news नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) में पढ़ने वाले इंजीनियरिंग ने मानव बम बनकर खुद को उड़ा लिया। इससे बुरी तरह घायल छात्र को एम्स में भर्ती कराया गया है। वह आईसीयू में है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। घटना को छात्र ने किन कारणों से अंजाम दिया? इसका पता नहीं चल पाया है। मामले में रैगिंग की भी आशंका जताई जा रही है। इससे पहले भी एनआईटी के कई छात्र-छात्राएं खुदकुशी कर चुके हैं।
पुलिस के मुताबिक एनआईटी के मैटलर्जी फर्स्ट ईयर का 19 वर्षीय छात्र मंगलवार दोपहर करीब 3 बजे रविशंकर शुक्ल विवि परिसर पहुंचा। वहां सूनसान स्थान पर विस्फोटक तैयार किया। फिर उसमें विस्फोट कर दिया। इससे वह बुरी तरह घायल हो गया। घायल होने के बाद भी वह किसी तरह सड़क पर पहुंचा। उसकी हालत देखकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उसे एम्स में भर्ती कराया। विस्फोट से उसके पेट में गंभीर चोटें आई हैं। छात्र मूलत: कोरबा का रहने वाला है। डीडी नगर में पीजी में रहता था। उसकी बहन भी एनआईटी में है।
यह भी पढ़ें

Raipur Crime: बाल संप्रेक्षण गृह से भागे 7 नाबालिग, CCTV में कैद हुए हत्यारे...तलाश में जुटी पुलिस

कपड़े, जूते-मौजे अलग मिले

घटना से पहले छात्र ने अपने कपड़े और जूते-मौजे उतारकर अलग रख दिया था। उसका बैग भी दूसरी जगह पर मिला। मौके से रस्सी बम के रैपर भी मिले हैं। आशंका है कि उसने पटाखों से बारूद इकट्ठा किया। फिर उसमें लोहे, किल जैसी चीजें रखी। फिर उसमें विस्फोट किया।
घटना से पहले बहन को दी थी जानकारी

पुलिस के मुताबिक छात्र ने विस्फोट करने से करीब 5 मिनट पहले अपनी बहन को कॉल किया था और विस्फोट करके जान देने के बारे में बताया था। उसकी बहन भी एनआईटी में है। छात्र का फोन आते ही वह उसकी तलाश में रविशंकर यूनिवर्सिटी परिसर पहुंची। आसपास उसकी तलाश की, लेकिन नहीं मिला। उसकी तलाश में वह दूसरी दिशा में चली गई। विस्फोट होने और उसके घायल होने के बाद छात्रा को पता चला। इसके बाद उसे अस्पताल ले गए।
खुदकुशी की कोशिश तो नहीं

सरस्वती नगर टीआई लालमन साव का कहना है कि छात्र ने विस्फोट करके अपनी जान देने की कोशिश की है। उसके परिजनों ने बताया है कि वह पहले भी खुदकुशी की कोशिश कर चुका है। वर्तमान में खुदकुशी किस वजह से कर रहा था? इसका पता नहीं चल पाया है। घायल छात्र से पूछताछ नहीं हो पाई है। वह आईसीयू में भर्ती है।
रैगिंग की भी आशंका

मामले में रैगिंग की आशंका भी जताई जा रही है। छात्र को अगर खुदकुशी करना होता, तो और भी कई तरीके हैं। जिस ढंग से उसके कपड़े, जूते-मौज अलग रखे हैं, उससे कई सवाल खड़े हो रहे हैं। फिलहाल इस घटना के संबंध में एनआईटी के अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो