scriptकोटा-इंदौर की कोचिंग के लिए जल्दी करें आवेदन, अंतिम तारीख 30 अप्रैल | Apply quickly for Kota-Indore coaching, last date is 30 April | Patrika News

कोटा-इंदौर की कोचिंग के लिए जल्दी करें आवेदन, अंतिम तारीख 30 अप्रैल

locationराजगढ़Published: Apr 23, 2023 11:41:40 am

Submitted by:

Subodh Tripathi

जेईई, नीट, पीएससी सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए क्लासेस शुरू की जा रही हैं। इनमें इंदौर-कोटा की कोचिंग क्लासेस के टीचर (प्रोफेसर) पढ़ाएंगे।

कोटा-इंदौर की कोचिंग के लिए जल्दी करें आवेदन, अंतिम तारीख 30 अप्रैल
कोटा-इंदौर की कोचिंग के लिए जल्दी करें आवेदन, अंतिम तारीख 30 अप्रैल

ब्यावरा. स्टूडेंट्स के लिए एक अच्छी खबर है, अगर वे कोटा-इंदौर जैसी कोचिंग अपने ही शहर में रहकर करना चाहते हैं, तो जल्दी आवेदन करें, क्योंकि 30 अप्रैल तक कोचिंग के लिए आवेदन लिए जा रहे हैं, इसके बाद 7 मई को परीक्षा होगी, जिसमें चयनित होने वाले स्टूडेंट्स को कोचिंग दी जाएगी, अच्छी बात यह है कि इसमें कोटा-इंदौर के चयनित शिक्षक खुद बच्चों को पढ़ाएंगे।

राजगढ़ जिले के बच्चों को बेहतर प्रोफेशनल प्लेटफॉर्म मुहैया करवाने जिला प्रशासन ने एक योजना तैयार की है। जिसके तहत जेईई, नीट, पीएससी सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए क्लासेस शुरू की जा रही हैं। इनमें इंदौर-कोटा की कोचिंग क्लासेस के टीचर (प्रोफेसर) यहीं आकर पढ़ाएंगे। दरअसल, उक्त स्पेशल क्लासेस में भाग लेने के लिए जिला प्रशासन परीक्षा आयोजित कर रहा है। यह परीक्षा 7 मई को आयोजित की जाएगी। 30 अप्रेल तक इस प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन किए जा सकते हैं। इसके लिए जिलेभर के सरकारी स्कूलों के बच्चे अपने प्राचार्य से संपर्क कर सकते हैं। 80 फीसदी सरकारी और 20 फीसदी निजी स्कूल के प्रतिभावान और इच्छुक बच्चों को भी इसमें मौका मिलेगा। मैथ्स के स्टूडेंट्स जेईई और साइंस के नीट सहित अन्य विद्यार्थी पीएससी की क्लासेस ज्वॉइन कर सकते हैं।

इंट्रेंस एग्जाम पास करने पर होगा चयन

जिला प्रशासन ने एक ऑनलाइन गूगल फॉर्म जारी किया है, जिसे संबंधित इच्छुक छात्र भर सकते हैं। साथ ही अपने प्राचार्य के माध्यम से यह जानकारी ली जा सकती है। इसकी अंतिम तारीख 30 अप्रेल है। 7 मई को परीक्षा आयोजित की जाएगी। जिलेभर के तकरीबन 2000 बच्चों में से रेंडमली मैरिट के आधार पर चयन किया जाएगा। उनसे बेसिक ही परीक्षा में पूछा जाएगा। खास बात ये है कि तकरीबन 50 से 60 बच्चों की यह स्पेशल क्लास सालभर चलेगी, जिसमें विशेष पढ़ाई करवाई जाएगी। यानी जो बच्चे यह पढ़ाई (क्रश कोर्स) करने कोटा या इंदौर जाते थे, अब उन्हें यह सुविधा जिले में ही मिलेगी।

जहां के बच्चे ज्यादा होंगे वहीं क्लासेस

कलेक्टर ने बताया कि प्राथमिक तौर पर जिला मुख्यालय पर ये क्लासेस शुरू करने वाले हैं, लेकिन यदि किसी अन्य ब्लॉक जैसे नरसिंहगढ़, ब्यावरा, सारंगपुर, जीरापुर-खिचलीपुर के बच्चे यदि ज्यादा हुए तो वहां पर ही हम क्लास शुरू करेंगे। इस क्रश कोर्स में बेसिक के साथ ही आगामी क्लासेस में जरूरत पड़ने वाली सामग्री पढ़ाई जाएगी। बच्चों को छात्रावास में रहने की सुविधा भी मुफ्त मिलेगी। उनकी हर जरूरत का ध्यान रखा जाएगा।

ख्यात कोचिंग जिलेभर के सरकारी हास्टल में देगी स्टडी मटेरियल

जिले में स्मॉर्ट एजुकेशन की ही कड़ी में एक ख्यात निजी कोचिंग क्लासेस कंपनी भी सुविधा दे रही है। कंपनी जिलेभर के सभी सरकारी हॉस्टल में स्टडी मटेरियल मुहैया करवाएगी। कक्षा 4 से लेकर 10वीं तक के बच्चों के लिए मुफ्त में ये मटेरियल मिलेगा, जिसमें वीडियो और अन्य बुक्स रहेंगी। इन कोर्स को संबधित स्टूडेंट के टीचर्स भी पढ़ाएंगे और समझाएंगे, जिससे काफी मदद उन्हें मिलेगी। इस मटेरियल से पढ़ाई करके बच्चे अपग्रेड होंगे।

यह भी पढ़ें

Video@trainfire : इंदौर जा रही ट्रेन में लगी भीषण आग-देखें वीडियो

मई में ही शुरू होंगी क्लासेस

कोटा के साथ ही इंदौर के टीचर्स से हमारी बात चल रही है। 30 अप्रेल तक इसके लिए आवेदन किए जा सकते हैं। साथ ही 7 मई को हम एक्जाम करवाएंगे। फिर शॉर्ट लिस्टेड करने के बाद मई में ही किसी तारीख में ये क्लासेस शुरू करवा दी जाएंगी।

-हर्ष दीक्षित, कलेक्टर, राजगढ़

ट्रेंडिंग वीडियो