scriptTiger returns to Madhya Pradesh | मध्यप्रदेश में टाइगर रिटर्न | Patrika News

मध्यप्रदेश में टाइगर रिटर्न

देवास-मंदसौर में वर्षो बाद बाघ-तेंदुए की संख्या में बढ़ोतरी

सब देवास के जंगलों से लेकर हरदा तक बाघ का नया बसेरा, एक दर्जन से ज्यादा होने का अनुमान

रतलाम

Updated: January 06, 2022 07:52:18 pm

सचिन त्रिवेदी

उज्जैन. मालवांचल के बड़े संभाग उज्जैन के वन इलाकों में लंबे समय के बाद बाघों की ठोस मौजदूगी के साक्ष्य मिले हैं। कभी मालवांचल के जंगल इनका बड़ा बसेरा हुआ करते थे, लेकिन बीते 8 से 10 वर्षो के दौरान संख्या तेजी से कम हो गई। हालांकि वन विभाग इसे बाघ के लोकेशन बदलाव से जोड़कर देखता है। वन क्षेत्रों में हालिया पशु गणना के आंकड़ों की पुष्टि का आखिरी चरण चल रहा है।
Tiger hunt: Search for T23 extended to more areas
Tiger hunt: Search for T23 extended to more areas
Tiger returns to Madhya Pradesh
IMAGE CREDIT: patrika
कई तरह के नए संसाधनों के साथ हुई गणना में देवास-खंडवा-हरदा वन कॉरिडोर क्षेत्र में करीब एक दर्जन बाघ होने के साक्ष्य सामने आए हैं। इनमें बागली वन क्षेत्र में ही करीब 5 बाघ के पगमार्क, जंगलों में पेड़ों पर खरोंच, अपशिष्ट आदि मिले है। इसी तरह उदयपुर वन क्षेत्र के आसपास भी करीब 3 बाध के विचरण को पशु गणना टीम ने ट्रैप किया है। बड़वाह-चोरल के बीच भी कुछ बाघ के होने का अनुमान है। इस तरह करीब एक दर्जन बाघ मालवांचल में फिर लौटे है।
tiger2.jpg चीता की उम्मीद


संभाग के एक अन्य वन अभयारण्य गांधीसागर क्षेत्र में भी पशु गणना के बाद सुखद आंकड़े सामने आ रहे हैं। यहां चीते का नया बसेरा बनाने सबसे पहले उनकी खास खुराक चीतल छोड़े गए हैं। हाल ही गणना और विश्लेषण के दौरान पता चला है कि अभयारण्य दायरे में तेंदुओं की संख्या बढ़ी है, नए वॉच पाइंटों पर भी इनको ट्रैप किया गया है। तेंदुओं की संख्या करीब 50 से ज्यादा हो गई है। आने वाले समय में छोड़े गए चीतल की संख्या बढऩे के बाद यहां अन्य वन क्षेत्र से चीता लाकर उनकी बसाहट तैयार होगी।
royal_bengal_tiger-amp.jpgसुखद तस्वीर पाने नेटवर्क


देवास-हरदा-खंडवा कॉरिडोर में बाघ की संख्या में बढ़ोतरी की पुष्टि होने के बाद अब उनकी अहम तस्वीर का इंतजार है। वन विभाग करीब 225 कैमरों का उपयोग कर बाघों की लोकेशन ट्रैस कर रहा है। नर्मदा तटीय इलाकों में खास निगरानी की जा रही है। उधर, गांधीसागर-भानपुरा वन क्षेत्र में भी तेंदुओं की संख्या बढऩे पर निगरनी तेज हो गई है।
tiger-final_1.jpgबाघों की सुरक्षा के किए इंतजाम


देवास एवं इससे लगे खंडवा-हरदा वन क्षेत्र में बाघों की संख्या बढऩे के प्रमाण मिले है, हालांकि ये लोकेशन बदलते रहते है, लेकिन बागली एवं उदयपुर वन क्षेत्र में ये 6 से 8 की संख्या में हो सकते है, बीते वर्षो की अपेक्षा यह संख्या बढ़ रही है, इसी अनुसार सुरक्षा इंतजाम भी बढ़ाए जा रहे हैं।

- पीएन मिश्रा, वन मंडलाधिकारी देवास


वन क्षेत्र में लगातार बढ़ रहे तेंदुए


गांधीसागर एवं भानपुर वन एरिया में तेंदुए की संख्या बेहतर हुई है, वन्य प्राणियों की गणना के दौरान बाघ होने की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन आगामी समय में गांधीसागर अभयारण्य में बाहरी क्षेत्र से चीता लाकर बसाने की योजना पर काम हो रहा है, चीतल छोड़कर पहले उनके अनुकूल वातावरण बना रहे है।

- आदर्श श्रीवास्तव, वन मंडलाधिकारी मंदसौर

tiger1.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज ही होगी सुनवाईनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतउदयपुर हत्याकांड को लेकर बोले मुख्यमंत्री: कहा- 'हर पहलू को ध्यान में रखकर होगी जांच, कहीं कोई अंतरराष्ट्रीय लिंक तो नहीं'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंMohammed Zubair’s arrest: 'पत्रकारों को अभिव्यक्ति के लिए जेल भेजना गलत', ज़ुबैर की गिरफ्तारी पर बोले UN के प्रवक्ता1 जुलाई से बैन: अमूल, मदर डेयरी को नहीं मिली राहत, आपके घर से भी गायब होंगे ये समान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.